उत्तराखंड: पथौरागढ़ में बादल फटने से चार जवानों समेत सात लापता

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में बादल फटने से आस-पास का इलाका बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बादल फटने से जहां काली नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, वहीं 4 जवानों समेत 7 लोग लापता बताए जा रहे हैं। इसके अलावा मलपा में चार शव भी मिले हैं।

कैलाश मानसरोवर यात्रा के रास्ते पर बादल फटने की वजह से फिलहाल यात्रा रोक दी गई है। मंगती में दो और सिमखोला में एक पुल क्षतिग्रस्त हुआ है और ऐलगाड़ में मुख्य मार्ग अवरुद्ध है। मंगती नाला इलाके में सेना के चार जवान और तीन स्थानीय लोग लापता हैं। मलपा में चार शव भी बरामद हुए हैं। माना जा रहा है कि बादल फटने से अभी और नुकसान हो सकता है। खतरे के निशान से ऊपर बह रही काली नदी से आस-पास के इलाके प्रभावित हुए हैं।

इससे पहले शनिवार देर रात हिमाचल प्रदेश में हुई लैंड-स्लाइड में दो बसें और एक कार दब गई थीं। रविवार को पूरे दिन चले अभियान में अब तक 46 शव बरामद हुए हैं। खतरनाक मौसम और बादल फटने से पैदा हुए हालातों के मद्देनजर ही कैलाश मानसरोवर यात्रा रोकने का निर्णय लिया गया है।

Share With:
Rate This Article