पानीपत: 25 हजार रिश्वत ने देने पर फूड इंस्पेक्टर ने मारे डिपो होल्डर को थप्पड़

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के एक इंस्पेक्टर ने शहर के एक डिपो होल्डर को थप्पड़ जड़ दिया। डिपो होल्डर ने थाना शहर पुलिस में इंस्पेक्टर के खिलाफ शिकायत दी है और उस पर रक्षाबंधन के दिन 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप लगाए हैं।
आरोप है कि इंस्पेक्टर ने त्योहार के दिन उसको मशीन समेत कार्यालय में बुला लिया। वह उनके कहने पर मशीन भी ले आया। उसके मेज पर मशीन रखते ही थप्पड़ जड़ दिए। थाना शहर पुलिस ने शिकायत लेकर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। इंस्पेक्टर ने पैसे मांगने के आरोपों को निराधार बताया है।

डिपो होल्डर जसवंत ने बताया कि जसवंत डिपो होल्डर के नाम से वार्ड नंबर 18 पानीपत में 2001 से डिपो है। रक्षाबंधन की छुट्टी वाले दिन फूड सप्लाई इंस्पेक्टर कार्यालय से फोन आया और मशीन लेकर रेलवे स्टेशन स्थित पीआर सेंटर पानीपत में बुलाया। वह मशीन लेकर पीआर सेंटर पर पहुंच गया। उसने बताया कि जब मैने छुट्टी वाले दिन बुलाने का कारण पूछा तो इंस्पेक्टर ने मुझसे रक्षाबंधन के उपलक्ष्य में 25 हजार की मांग की। जब मैंने कहा कि मैं तो डिपो पर किसी प्रकार की कोई हेराफेरी नहीं करता और न ही मेरे पास इतनी मोटी रकम हैं। उसने आरोप लगाया कि इंस्पेक्टर उसकी बात सुनते ही तैश में आया गया और उसको गंदी-गंदी गाली देने लगा।

उसने उसको टोका तो उसको थप्पड़ जड़ दिया। आरोप है कि इंस्पेक्टर ने उसको राशन चोरी के मामले में फंसाने की धमकी दी। फूड एंड सप्लाई इंस्पेक्टर अशोक मेहंदीरता ने बताया कि डिपो होल्डर जसवंत द्वारा उसके थाना में शिकायत देने की जानकारी मिली है। मेरे ऊपर 25 हजार रुपये मांगने के आरोप निराधार हैं। कुछ डिपो होल्डर राशन ऑनलाइन होने के बाद परेशान हैं और वे अधिकारियों के साथ भिड़ने के प्रयास में रहते हैं। मैं इस मामले में पुलिस की हर संभव जांच को तैयार हूं।

Share With:
Rate This Article