चीफ जस्टिस जे.एस. खेहर बोले- कानून तोडऩे में अपनी शान समझते हैं भारतीय

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जे एस खेहर ने भारत के लोगों पर कानून को तोडने और न्यायालय के आदेशों की अव्हेलना करने पर कटाक्ष किया है. जे एस खेहर ने कहा है कि भारतीय लोग कानून तोडने और कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उडाने में अपनी शान समझते हैं.

दरअसल जस्टिस खेहर ने शुक्रवार को एक मामले की सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की थी. जस्टिस खेहर एक घरेलू बिल्डिंग का इस्तेमाल कर्मिशयल के तौर पर करने के मामले की सुनवाई कर रहे थे. यह मामला दिल्ली के लाजपत नगर में एक इंस्टीट्यूट के हेड दिनेश खोसला का है. दिनेश खोसला घर की बिल्डिंग का उपयोग कमर्शियल के तौर पर कर रहे थे.

रिपोर्ट के अनुसार जस्टिस खेहर ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि तरक्की वाले देश में कानून का पालन होना ही चाहिए. अगर कानून का पालन नहीं होगा, तो अपराध बढेंगे और लोगों को सजा भुगतनी ही पडेगी. ज्ञातव्य है कि जस्टिस खेहर का कार्यकाल 24 अगस्त को पूरा हो रहा है. जस्टिस खेहर के बाद चीफ जस्टिस की कुर्सी जस्टिस दीपक मिश्र संभालेंगे.

Share With:
Rate This Article