उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग का दावा, हमारे परमाणु हथियारों की रेंज में है पूरा अमेरिका

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने दावा किया है कि अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल आईसीबीएम के दूसरे परीक्षण के बाद अब उनका देश अमेरिका के मुख्य भूभागों तक हमला कर सकता है।

विश्लेषकों ने कहा कि लॉस एंजिलिस और शिकागो समेत अमेरिका के ज्यादातर इलाके अब उत्तर कोरियाई हथियारों की जद में हैं। कोरियाई सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने कहा कि ह्वासोंग-14 मिसाइल ने 3725 किलोमीटर की अधिकतम ऊंचाई छुई और जापान के समुद्र में गिरने से पहले 998 किलोमीटर की दूरी तय की।

यह मिसाइल बड़े आकार वाले, भारी परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है। अमेरिका सहित कई देशों ने टेस्ट को उ. कोरिया का खतरनाक कदम बताया। अमेरिका ने कहा कि उसके इस कदम के लिए रूस और चीन जवाबदेह हैं। वहीं चीन ने टेस्ट की आलोचना करते हुए देशों से संयम रखने की अपील की है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि उत्तर कोरिया का अंतरमहाद्वीप बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) परीक्षण उसके निरंकुश शासन का खतरनाक कदम है। यह कदम उसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय से और अलग थलग कर देगा। इससे एक दिन पहले ही अमेरिकी कांग्रेस ने रूस, ईरान और उत्तर कोरिया पर नए कड़े प्रतिबंध लागू करने का बिल पास किया था।

दक्षिणकोरिया ने कहा कि इस मिसाइल टेस्ट ने चीन के कड़े विरोध के बावजूद उनके देश को अमेरिकी मिसाइल रक्षा प्रणाली थाड की तैनाती की प्रक्रिया तेज करने को मजबूर कर दिया है। रक्षा मंत्री सोंग योंग-मू ने कहा कि हम थाड बैटरी के बचे हुए हिस्सों की तैनाती पर जल्द ही विचार शुरू करेंगे। थाड बैटरी छह इंटरसेप्टर मिसाइल लॉन्चरों से बनी है। परीक्षण के तुरंत बाद अमेरिका और दक्षिण कोरिया की सेनाओं ने सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइलें दागकर अभ्यास किया।

Share With:
Rate This Article