पहली बार थम सकती है दिल्ली मेट्रो की रफ्तार, स्टाफ ने दी सोमवार को हड़ताल की धमकी

दिल्ली

दिल्ली मेट्रो के गैर कार्यकारी कर्मियों ने शनिवार (22 जुलाई) को वेतन वृद्धि सहित अन्य मांगे पूरी न होने पर सोमवार (24 जुलाई) को ट्रेन सेवा बाधित करने की धमकी दी है. गैर-कार्यकारी कर्मियों में ट्रेन संचालक, रख-रखाव कर्मी, स्टेशन नियंत्रक और ग्राहक संबंध सहायक शामिल हैं, जो प्रबंधन के वेतन में बढ़ोतरी के दो साल पुराने निर्णय को लागू करने की कथित विफलता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

कर्मचारी परिषद के सचिव अनिल कुमार महतो ने कहा, ‘हम रविवार (23 जुलाई) को यमुना बैंक स्टेशन पर एकत्रित होंगे, जहां प्रदर्शन कर रहे करीब 9000 कर्मी 24 जुलाई को रात 12 बजे पूर्ण बंद करेंगे.’’

 डीएमआरसी प्रबंधन ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘सरकार द्वारा तीसरे वेतन आयोग की सिफारिशें स्वीकार कर ली गई हैं और कभी भी आदेश जारी किया जा सकता है, इसलिए वेतन में संशोधन की उनकी मांगों को लागू करने का यह उपयुक्त समय नहीं है. सरकार के आदेश जारी करने के बाद वेतन संबंधी सभी मामले शीघ्र ही निपटा दिए जाएंगे.’

आंदोलन कर रहे कर्मियों की अन्य मांगों में संघ बनाने का अधिकार, स्टाफ के तीन सदस्यों के खिलाफ चल रही अनुशासनात्मक कार्यवाही को निरस्त करना आदि शामिल हैं.

Share With:
Rate This Article