अमेरिका ने दिया पाक को बड़ा झटका, 2000 करोड़ रुपए की मदद रोकी

अमेरिका ने पाकिस्तान को तगड़ा झटका देते हुए उसे 350 मिलियन डॉलर (करीब 2000 करोड़ रुपए) की मदद नहीं देने का फैसला किया है. अमेरिका ने यह फैसला इसलिए किया, क्योंकि पाकिस्तान ने आतंकवाद को रोकने के लिए पर्याप्त कार्रवाई नहीं की है. पेंटागन के प्रवक्ता एडम स्टम्प ने कहा कि पाकिस्तान ने हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई के अपने वादे को पूरी तरह नहीं निभाया है.

अमेरिका ने वर्ष 2016 के लिए पाकिस्तान को सैन्य मदद के लिए दी जाने वाली राशि में से यह राशि प्रदान नहीं करने का फैसला किया है.
पाकिस्तान को वर्ष 2016 के लिए कुल 900 मिलियन डॉलर की राशि प्रदान की जानी थी, जिसमें से 550 मिलियन डॉलर उसे दिए जा चुके हैं. पाक को नहीं दिए जाने वाले 350 मिलियन डॉलर में से 300 डॉलर का अन्य कार्यों के लिए उपयोग किया जा चुका है.

पेंटागन के प्रवक्ता एडम स्टंप ने कहा, ‘‘रक्षा मंत्री मैटिस ने कांग्रेस की रक्षा समितियों को अवगत कराया है कि वह वित्त वर्ष 2016 गठबंधन समर्थन कोष (सीएसएफ) की पूर्ण अदायगी मंजूरी के लिए इसकी पुष्टि नहीं कर सकते कि पाकिस्तान ने हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पर्याप्त कदम उठाया.’’

बता दें कि यह लगातार दूसरा वर्ष है जब अमेरिकी रक्षा मंत्री ने कांग्रेस को पुष्टि करने से इंकार कर दिया कि पाकिस्तान ने हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ संतोषजनक कार्रवाई की।

Share With:
Tags
Rate This Article