शॉटपुटर मनप्रीत कौर डोप टेस्ट में नाकाम, पदक गंवाने का खतरा

दिल्ली

एशियाई चैंपियन शॉटपुटर मनप्रीत कौर डोप टेस्ट में नाकाम रही हैं, जिससे इस महीने की शुरुआत में जीता उनका स्वर्ण पदक छिन भी सकता है.

भुवनेश्वर में 6-9 जुलाई तक संपन्न एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली मनप्रीत प्रतिबंधित शक्तिवर्धक डाइमेथिलबुटिलेमाइन के सेवन की दोषी पाई गई हैं. यह टेस्ट एक से चार जून तक पटियाला में हुई फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैंपियनशिप के दौरान राष्ट्रीय डोपिंग निरोधक एजेंसी (नाडा) के अधिकारियों ने किया था. यदि बी नमूना भी पॉजीटिव आता है तो भारत को भुवनेश्वर में उनका जीता स्वर्ण पदक गंवाना पड़ेगा.

देश की दिग्गज एथलीटों में शामिल मनप्रीत ने अगले महीने लंदन में होने वाली विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया है. मनप्रीत को जिस पदार्थ के टेस्ट में पॉजीटिव पाया गया है, वह विश्व एंटी डोपिंग एंजेसी (वाडा) के तहत अनिर्दिष्ट (स्पेसिफिक) श्रेणी में आता है, इसलिए मनप्रीत अगले महीने में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में भाग ले पाएंगी.

यही कारण है कि उन्हें अभी प्राथमिक तौर पर निलंबित नहीं किया है. हालांकि मनप्रीत को नाडा के सामने सुनवाई के लिए हाजिर होना होगा और वहां खुद को निर्दोष न साबित कर पाने की स्थिति में उनके द्वारा एशियन एथलेटिक्स के दौरान जीता गया स्वर्ण पदक छीना जा सकता है. भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के एक अधिकारी ने बताया कि नाडा ने हमें मनप्रीत के टेस्ट में पॉजीटिव पाये जाने की सूचना दी. मनप्रीत के कोच और पति करमजीत ने संपर्क करने पर कहा कि हमें इस बारे में अभी कुछ नहीं बताया गया है.

Share With:
Rate This Article