एशियन चैंपियन मनप्रीत कौर डोपिंग टेस्ट में फेल हुई

भारतीय महिला एथलीट शॉट पुटर मनप्रीत कौर डोप टेस्ट में फेल होने की खबर सामने आई है। मनप्रीत कौर का सैंपल 1 जून को लिया गया था। राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक पटियाला में फेडरेशन कप के दौरान नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (नाडा) द्वारा किए गए डोपिंग टेस्ट में विफल रही है।

मनप्रीत शक्ति बढ़ाने वाले पदार्थ डाईमिथाइलबूटीलेमाईन का सेवन करने की दोषी पाई गई हैं। शॉट पुटर मनप्रीत देश की शीर्ष एथलीटों में से एक हैं, जिन्होंने अगले महीने लंदन में होने वाली वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप्स के लिए भी क्वालीफाई किया है।

अब मनप्रीत कौर को नाडा के अनुशासनात्मक पैनल के सामने सुनवाई के लिए हाजिर होना पड़ेगा। अगर वो अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर पाईं तो 6 से 9 जुलाई तक भुवनेश्वर में हुई एशियाई मीट में जीता गोल्ड मेडल गंवाना पड़ सकता हैं।

चीन में अप्रैल में हुई एशियाई ग्रैंड प्रिक्स में भारतीय शॉटपुटर ने 18.86 मीटर दूर थ्रो फेंककर गोल्ड मेडल जीता था। ग्लोबल मीट में क्वालीफाई करने के लिए 17.75 मीटर मार्क पार करना जरुरी था। मनप्रीत के शानदार प्रदर्शन ने उन्हें विश्व नंबर-1 पर पहुंचा दिया था। भुवनेश्वर में उन्होंने 18.28 मीटर की दूरी पर शॉट पुट फेंककर गोल्ड मेडल जीता।

मनप्रीत ने इंटरस्टेट एथलेटिक्स मीट में भी हिस्सा लिया था, जो मंगलवार को आंध्रप्रदेश के गुंटूर में संपन्न हुई। उम्मीद के मुताबिक मनप्रीत का प्रदर्शन सबसे प्रभावी रहा, लेकिन इस बार 15.65 मीटर की दूरी पर फेंककर खिताब जीता।

27 वर्षीया मनप्रीत ने 2016 रियो ओलंपिक्स के लिए भी क्वालीफाई किया था, लेकिन वो 23वें स्थान पर रही थी। बहरहाल, मनप्रीत के अलावा फेडरेशन कप में डीकेथलॉन के गोल्ड मेडल विजेता जगतार सिंह भी इस सीजन के डोप टेस्ट में फेल हुए थे।

Share With:
Rate This Article