जानिए इस रक्षाबंधन राखी बांधने का सही मुहूर्त एवं समय

भाई-बहन के प्यार का रक्षा बंधन पर्व इस बार भद्रा और चंद्रग्रहण की वजह खास हो गया है. ज्योतिषीय गणित की वजह से सूर्योदय के साथ मनाया जाने वाला यह पर्व सात अगस्त को पूर्वाह्न 11:28 के बाद मनेगा. भद्रा और चंदग्रहण की जुगलबंदी की वजह से अपराह्न 1:52 बजे के बाद राखी नहीं बांधी जा सकेगी.

7 अगस्त सोमवार को उदया में पूर्णिमा तिथि रहेगी, भद्रा रविवार को रात्रि में लग जाएगी और सोमवार 11:28 तक रहेगी. राखी उसके बाद ही बांधी जाएगी. इसी दिन रात 11:30 खंडग्रास चंदग्रहण लगेगा, जिसका सूतक दोपहर 1:52 बजे के बाद से शुरू हो जाएगा. इसके बाद कोशिश करें कि रक्षा सूत्र न बंधे.

सूतक के दौरान राखी बांधने से बंधवाने वाले और बांधने वाले दोनों ही को सूतक दोष लगता है. गर्भवती को इसका विशेष ख्याल रखना चाहिए. इसके बाद कुछ भी खाने से परहेज करना उत्तम होगा.

राशि के अनुसार बांधे राखी

मेष- लाल, गुलाबी या पीले रंग की.

वृष: श्वेत, नीली, रेशमी-चमकीला

मिथुन- हरा, नीला और गुलाबी.
कर्क-श्वेत, पीली, चमकीली-रेशमी.

सिंह-लाल, गुलाबी या पीले रंग की.
कन्या- श्वेत, हरा, गुलाबी.
तुला- श्वेत, नीली-चमकीली.
वृश्चिक- लाल, गुलाबी या पीला.

धनु- पीली, लाल या गुलाबी.
मकर- नीला, चमकीला-श्वेत.
कुंभ- श्वेत-नीला.
मीन-पीली या गुलाबी.

Share With:
Rate This Article