रिटायरमेंट की उम्र फिर से 58 वर्ष करने की तैयारी में पंजाब सरकार

चंडीगढ़

पंजाब सरकार कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र 60 वर्ष से कम कर फिर से 58 वर्ष करने की तैयारी में है. सरकार यह कदम इसलिए उठाने जा रही है, ताकि चुनाव में पंजाब के लोगों से रोजगार को लेकर जो वादा किया गया है, उसे कुछ हद तक पूरा किया जा सके. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुद इस बात की पुष्टि की है कि रिटायरमेंट की उम्र कम करने पर विचार चल रहा है.

अकाली भाजपा सरकार ने 2015 में सेवानिवृत्ति की उम्र 58 से 60 वर्ष कर दी थी. चूंकि उस दौरान सेवानिवृत्ति हो रहे मुलाजिमों को एरियर, जीपीएफ फंड आदि देने पर राज्य सरकार पर करीब 2000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ रहा था.

सरकार ने रिटायरमेंट की उम्र दो साल के लिए बढ़ा दी थी. अब सरकार चाह रही है कि इसे फिर से 58 वर्ष कर दिया जाए, ताकि युवाओं को सरकारी नौकरी का लाभ मिल सके. सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह कहते हैं कि अभी इस योजना पर विचार चल रहा है. कई पहलुओं पर विचार किया जाना बाकी है.

Share With:
Rate This Article