सीमा पर तनातनी के बीच चीनी सेना ने तिब्‍बत में किया 11 घंटे युद्धाभ्‍यास

बीजिंग

चीन की सेना ने तिब्बत में 11 घंटे तक युद्धाभ्यास किया है. इस दौरान चीनी सेना ने दुश्मन देश के एयरक्राफ्ट को भी निशाना बनाया. चीन की ये चाल उस वक्त सामने आई है जब सिक्किम सेक्टर के डोकालाम क्षेत्र में भारतीय और चीनी सेना के बीच पिछले कुछ दिनों से तनाव चल रहा है.

सैन्य अभ्यास के समय की जानकारी दिए बगैर शुक्रवार को चीन के सरकारी टेलीविजन सीसीटीवी ने अपनी खबर में कहा कि पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने दक्षिण-पश्चिम चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में युद्धाभ्यास किया.

ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार, इस अभ्यास में पीएलए के तिब्बत मिलिट्री कमान की एक ब्रिगेड ने और चीन की पठारी-पहाड़ी ब्रिगेड ने हिस्सा लिया. पीएलए का तिब्बत कमान भारत-चीन सीमा पर नियंत्रण रेखा में तिब्बत क्षेत्र सहित कई खंडों की सुरक्षा करता है.

बता दें कि इससे पहले भी चीनी सेना ने हाल ही में 5,100 मीटर की ऊंचाई पर तिब्बत में मिलिट्री एक्सरसाइज की थी. पहली बार पीएलए की आर्मर्ड ब्रिगेड ने तनाव भरे माहौल में एक्सरसाइज को अंजाम दिया था. इसमें चीन का सबसे एडवांस्ड युद्ध टैंक टाइप-96बी भी नजर आया था.

इसके अलावा, तिब्बत की मोबाइल कम्युनिकेशन एजेंसी ने भी 10 जुलाई को ल्हासा (तिब्बत की राजधानी) में एक ड्रिल की थी. जिसमें एजेंसी के मेंबर्स ने इमरजेंसी में कम्युनिकेशन सिक्योर करने के मकसद से एक अस्थायी मोबाइल नेटवर्क खड़ा करने का अभ्यास किया था.

Share With:
Rate This Article