जैश-ए-मोहम्मद के टेप से मची खलबली, निशाने पर पीएम मोदी और सीएम योगी

पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के नए टेप में पीएम मोदी और यूपी सीएम आदित्यनाथ को धमकी दी गई है. इस टेप की जांच यूपी एटीएस के साथ एनआईए कर रही है. वहीं, यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने के बाद सीएम आदित्यनाथ पर आतंकवादी खतरे की आशंका के तहत सुरक्षा और कड़ी की गई है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने भारत के पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर बारूद के बजाए दवा और केमिकल से हमला करने का जिक्र किया है. ये धमकी भरा टेप कश्मीर बेस कैम्प से जैश-ए-मोहम्मद ने जारी किया है.

इस टेप में कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक आतंकी हमले की बात कही गई है. इसमें नरेंद्र मोदी और आदित्यनाथ का नाम कई बार लिया गया है और सबक सिखाने के लिए जिहाद छेड़ने की बात कही गई है. इसमें एक धर्म से जुड़े लोगों को भड़काने की कोशिश भी की गई है. इसमें जैश ए मोहम्मद के करीबी तलहा की आवाज है.

तलहा पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड था. उसने यूपी में भी जैश का मॉड्यूल खड़ा किया था और हमले की साजिश रची थी. लेकिन स्पेशल सेल ने इसके कई सदस्यों को गिरफ्तार कर साजिश का भंडाफोड़ कर दिया था.

वहीं सीएम योगी को धमकी संदेश भेजना और इसके 36 घंटे के अंदर यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने से इस बात की आशंका गहरा जाती है कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जैश के निशाने पर हैं. पिछले 2 हफ्तों में पीएम मोदी और यूपी सीएम योगी को दी गई ये दूसरी धमकी है.

मसूद अजहर ने हमले के नए तरीकों के लिए खासतौर पर नए उपकरणों जैसे व्हीकल, बिजली, पेट्रोल, फर्टिलाइजर और खासतौर पर ‘दवाइयों’ को इस्तेमाल करने की सलाह दी थी. तो यहां पर आपको विशेष तौर पर जानना जरूरी है कि यूपी विधानसभा में मिला विस्फोटक पीईटीएन का दवाइयों के प्रयोग में इस्तेमाल होता है और ये हृदय संबंधी बीमारियों जैसे सीने में दर्द के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

Jaish-E-Mohammad new threat tape

Share With:
Rate This Article