हरियाणा के एक हजार गांव बनेंगे स्मार्ट, ग्राम विकास प्राधिकरण का गठन हुआ

चंडीगढ़

हरियाणा के गांवों अब स्मार्ट बनेंगे. इसके लिए राज्‍य सरकार ने खास योजना तैयार की है. राज्‍य में एक हजार गांवों को स्‍मार्ट बनाया जाएगा और इसके लिए हरियाणा स्मार्ट ग्राम विकास प्राधिकरण का गठन किया गया है. इसके मुखिया खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल होंगे. विकास एवं पंचायत मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ को उपाध्यक्ष बनाया गया है. इन गांवों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्‍ध कराने सहित इनका संपूर्ण विकास किया जाएगा.

प्रदेश सरकार अगले साल से एक हजार गांवों को स्मार्ट ग्राम बनाने की यह मुहिम शुरू करेगी. इन गांवों में सभी मूलभूत सुविधाएं होंगी और युवाओं को कौशल विकास एवं रोजगार सुनिश्चित किया जाएगा. गांवों में ही रोजगार मिलने पर आर्थिक स्थिति सुधरेगी और शहरों की ओर पलायन रुकेगा.

केंद्र और राज्य सरकार में नीति निर्धारण एवं क्रियान्वयन में लंबा अनुभव रखने वाले किसी एक व्यक्ति को प्राधिकरण का कार्यकारी उपाध्यक्ष और राज्य मंत्रिमंडल के अधिकतम तीन सदस्यों को पदेन सदस्य बनाया जाएगा. इसके अलावा उद्योग, व्यापार एवं वाणिज्य, शिक्षा एवं अनुसंधान, कौशल विकास, स्वास्थ्य देखभाल, ऊर्जा सहित अन्य क्षेत्रों में व्यापक अनुभव रखने वाले तीन लोग भी इसके सदस्य बनाए जाएंगे. मुख्यमंत्री ही मुख्य कार्यकारी अधिकारी-सह-सचिव भी मनोनीत करेंगे.

प्राधिकरण गांवों को स्मार्ट बनाने के लिए योजनाएं बनाने के साथ इनके क्रियान्वयन की निगरानी करेगा. गांवों के विकास में अड़चन बने नियमों एवं कानूनों में आवश्यक बदलाव की सिफारिश के अलावा अंतरक्षेत्रीय और अंतर विभागीय मुद्दों को सुलझाने में प्राधिकरण की अहम भूमिका होगी. इसके अलावा सड़क, बिजली आपूर्ति, पेयजल, स्वच्छता जैसी मूलभूत सुविधाओं को दुरुस्त कराने की  जिम्मेदारी होगी.

 

Share With:
Rate This Article