SBI का एक और गिफ्ट, 75% तक NEFT और RTGS चार्जेज हुए कम

दिल्ली

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने IMPS के माध्यम से 1000 रुपए तक के ट्रंजेक्शन पर लगने वाली फीस खत्म करने के बाद नया कदम उठाया है. बैंक ने लोगों को राहत देते हुए ऑनलाइन लेन-देन लिए NEFT और RTGS पर लगने वाले चार्जेस को 75 प्रतिशत तक कम कर दिया है. नई दरें 15 जुलाई से लागू होंगी.

कम किए गए चर्जेस इंटरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग दोनों पर लागू होंगे. स्टेट बैंक एनजीबी के मैनेजिंग डायरेक्टर रजनीश कुमार ने एक बयान में कहा है कि अपने ग्राहकों को ऑपरेशन्स में शानदार अनुभव और डिजिटलाईजेशन उपलब्ध करवाना हमारा मूल उद्देश्य है. यह हमारे ग्रहकों को फायदा पहुंचाने के रूप में सामने आया है.

केंद्र सरकार के डिजिटल अर्थव्यवस्था बनाने की दिशा में उठाए कदमों को कॉम्पिलिमेंट करने के लिए हमारी रणनीति के तहत हमने एनईएफटी और आरटीजीएस लेन-देन के लिए लगने वाले चार्जेस को कम किया है.

स्टेट बैंक द्वारा एनईएफटी और आरटीजीएस चार्जेस कम किए जाने के बाद नए चार्जेस इस तरह होंगे.

NEFT

10000 तक के लेन-देन के लिए ब्रांच चैनल पर 2.50 पैसे देने होंगे वहीं ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से जहां पहले 2 रुपए लगते थे वहीं अब 1 रुपया देना होगा.

10000 से 1 लाख तक के लिए पहले जहां 4 रुपए देने होते थे वहीं अब 2 रुपए देने होंगे.

1 लाख से 2 लाख तक के लिए पहले दिए जाने वाले 12 रुपए के मुकाबले अब 3 रुपए देने होंगे.

2 लाख से ऊपर के लिए पहले 20 रुपए देने होते थे लेकिन अब 5 रुपए ही देने होंगे.

RTGS

2 लाख से 5 लाख तक के लेन-देन के लिए पहले जहां 20 रुपए देने होते थे वहीं अब 5 रुपए ही देने होंगे.

5 लाख से ऊपर के लेन-देन के लिए पहले 40 रुपए देने होते थे लेकिन अब सिर्फ 10 रुपए देने होंगे.

Share With:
Rate This Article