शिमला: कोटखाई रेप एंड मर्डर केस में हो सकता है बड़ा खुलासा, हिरासत में चार युवक

शिमला के कोटखाई की गुड़िया की दरिंदगी के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने क्षेत्र के ही चार युवकों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस आज इस मामले में बड़ा खुलासा कर सकती है। मामले की गुत्‍थी तकरीबन सुलझा ली गई है.
जांच के दौरान फोन कॉल डिटेल, मोबाइल लोकेशन और संदिग्धों के विरोधाभासी बयानों के चलते पुलिस मंगलवार से उनसे पूछताछ कर रही है। सूत्रों का कहना है कि उनके बयानों और पुलिस तफ्तीश में मिली जानकारी के बीच की कडि़यों को जोड़कर पुलिस जल्द इस मामले का खुलासा कर सकती है.
एसआईटी का दावा है कि अब गुत्थी सुलझने की कगार पर है. सूत्रों का कहना है कि पुलिस को मामले में कई ठोस सुराग हाथ लगे हैं जिनके आधार पर चार युवकों से कड़ी पूछताछ की जा रही है.
कोटखाई प्रकरण में सुराग देने पर भाजपा सांसद शांता कुमार के एक लाख रुपये का ईनाम देने की घोषणा के अड़तालीस घंटे बाद अब सरकार को मुआवजा देने की सूझी है.
इससे पहले प्रदेश सरकार ने छात्रा के परिजनों को पांच लाख रुपये बतौर मुआवजा देने की घोषणा के साथ ही दरिंदों की सूचना देने वाले को एक लाख रुपये ईनाम देने की घोषणा की है.

इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री ने डीजीपी सोमेश गोयल को तलब कर मामले में अब तक हुई जांच की जानकारी की। इसके बाद उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिए कि मामले में निष्पक्ष जांच कर सख्ती से आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए.

वहीं, मुख्यमंत्री के एक्टिव होने के बाद मंगलवार को ही पूर्व सांसद व मुख्यमंत्री की पत्नी प्रतिभा सिंह ने कोटखाई जाकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने परिवार और गांव के लोगों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया. साथ ही आश्वस्त किया कि दरिंदों को हर हाल में पकड़कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Share With:
Rate This Article