इनेलो के SYL आंदोलन को लेकर हरियाणा-पंजाब की तैयारी पूरी, पढ़ें

SYL के मुद्दे पर दस जुलाई को पंजाब के वाहनों को हरियाणा में न घुसने देने पर अड़े इनेलो से निपटने के लिए हरियाणा व पंजाब ने साझा रणनीति बनाई है। दोनों राज्यों के गृह सचिवों और पुलिस महानिदेशकों की संयुक्त बैठक में प्रदर्शन के दौरान आमजन को दिक्कतों से बचाने और काूनन व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कई अहम निर्णय लिए गए। इस बीच, हरियाणा सरकार ने आंदोलन से निपटने के लिए केंद्र सरकार से केंद्रीय बलों की दस टुकड़ियां मांगी हैं।

हालांकि अभी इनेलो ने यह साफ नहीं किया है कि वह अंबाला में वाहनों को रोकेंगे या फिर शंभू में अपना अभियान शुरू करेंगे। इसके बावजूद हरियाणा व पंजाब के आला अधिकारियों ने किसी भी तरह की संभावित स्थिति से निपटने के लिए रणनीति तैयार कर ली है। इस मामले को लेकर शुक्रवार को पंजाब के गृह सचिव एनएस कलसी और पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा तथा हरियाणा के गृह सचिव रामनिवास और पुलिस महानिदेशक बीएस संधू की मौजूदगी में आला पुलिस अधिकारियों ने बैठक की। बैठक में इनेलो की चेतावनी तथा पूर्व में एसवाईएल की सांकेतिक खोदाई को लेकर किए गए प्रबंधों की समीक्षा की गई।

दोनों राज्यों में इस बात पर सहमति बनी कि सोमवार को इनेलो के प्रदर्शन के दौरान आमजन को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। बैठक में अंबाला रेंज के आइजी तथा पटियाला रेंज के आइजी को निर्देश दिए गए कि वह संबंधित पुलिस थानों के माध्यम से वैकल्पिक रूटों का भी प्रबंध करें। सुरक्षा की दृष्टि से दोनों राज्य अपनी-अपनी सीमा में रविवार रात से ही पुलिस बलों को तैनात कर देंगे। इसके अगले दिन दोनों राज्यों के एडीजीपी कानून व्यवस्था विवादित स्थल की निगरानी करेंगे। इसके अलावा डीजीपी तथा गृह सचिव भी लगातार पूरे हालात पर नजर रखेंगे।

Share With:
Rate This Article