12वीं की गणित परीक्षा का मामला: शिक्षकों की लापरवाही की वजह से HPAS अफसर को हटाया गया

हिमाचल के जिला हमीरपुर के दो स्कूलों में 12वीं के गणित विषय में पूरी कक्षा को फेल करने के मामले की गाज प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के सचिव पर गिरी है। प्रदेश सरकार ने बोर्ड सचिव शुभकरण सिंह को डेढ़ माह के भीतर ही पद से हटा दिया है। उन्हें सहकारी सभाएं धर्मशाला के अतिरिक्त पंजीयक के पद पर तैनात कर दिया है।

हालांकि, बिना पेपर चेक किए जीरो नंबर देकर विद्यार्थियों को फेल करने के आरोपी शिक्षकों पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। गलती अध्यापकों की थी, बोर्ड सचिव ने जांच करवाने के बाद शिक्षा विभाग को रिपोर्ट भी ई-मेल कर दी थी, लेकिन सजा खुद बोर्ड के सचिव को मिली।

अब शिक्षा बोर्ड के असिस्टेंट सेक्रेटरी जांच रिपोर्ट लेकर खुद शिमला पहुंच गए हैं। मामले की जांच तेज हो गई है। लेकिन सरकार आरोपी शिक्षकों पर कार्रवाई की हिम्मत नहीं जुटा पा रही। पेपर चेकिंग में शिक्षकों की लापरवाही का खुलासा अमर उजाला ने किया था। इसके बाद शिक्षा बोर्ड ने फेल सभी छात्रों को पास कर दिया था।

स्कूल शिक्षा बोर्ड की जांच रिपोर्ट में उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने वाले अध्यापक की गलती उजागर हुई थी। जांच रिपोर्ट को करीब दो हफ्ते पहले शिक्षा बोर्ड ने ई-मेल के जरिए शिक्षा निदेशक को भेजने के दावा किया था। लेकिन शिक्षा निदेशालय ने ऐसी किसी भी रिपोर्ट के मिलने से इनकार कर दिया।

Share With:
Rate This Article