हमीरपुर: बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का असर, बेटियों की संख्या बढ़ी

हिमाचल प्रदेश में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के सार्थक परिणाम सामने रहे हैं. प्रदेश के कई जिलों में बेटों के मुकाबले बेटियों की संख्या में इजाफा हो रहा है. हमीरपुर जिले में बेटियां की संख्या में काफी इजाफा होने से लिंगानुपात में सुधार हुआ है. हमीरपुर के डीसी मदन चौहान ने यह जानकारी दी है.

हमीरपुऱ में छह वर्ष तक के आयु वर्ग में एक हजार बेटों के मुकाबले 887 बेटियां थी, जो कि इस वर्ष मई 2017 तक 967 तक पहुंच गई हैं. डीसी मदन चौहान ने लिंगानुपात बढ़ने पर खुशी जताई है.

डीसी मदन चौहान ने कहा कि लिंगानुपात में असमानता को खत्म करने के लिए ही हमीरपुर जिला में समेकित बाल विकास सेवाएं विभाग के माध्यम से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान शुरू किया गया है.

इस अभियान का मुख्य उददेश्य बेटा-बेटी एक समान का संदेश जनमानस तक पहुंचाना है, ताकि लिंगानुपात को कम किया जा सके. उन्होंने बताया कि अभियान के सार्थक परिणाम आने लगे हैं. लोग जागरूक हो रहे हैं.

Share With:
Rate This Article