यूपी: बुलंदशहर में दो नाबालिग के साथ गैंगरेप, पांचों आरोपी फरार

उत्तर प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के साथ प्रदेश में अपराध मुक्त बनाने का सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार का दावा खोखला साबित होता जा रहा है. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में गैंगरेप की घटना बढ़ती ही जा रही हैं. पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

बुलंदशहर में बेलगाम अपराधी हर रोज नई-नई वारदातों को अंज़ाम दे रहे हैं. परसों रात में दो नाबालिगों को अगवा कर गैंगरेप का मामला सामने आया है. गांव में परसों रात शौच के लिए बाहर गईं दो नाबालिगों को अगवा कर गैंगरेप किया गया. इसके बाद से आरोपी फरार हैं. दोनों बहनों में एक की उम्र 15 व  दूसरी की 14 वर्ष है.

दबंगों ने गांव में शौच करने गई दो नाबालिग को अगवा करने के बाद  एक स्कूल में उनके साथ गैंगरेप किया. दोनों गांव के बाहर निकली ही थीं कि गांव में ही रहने वाले फत्ते, रईस, समरू, यासू और सोहेल ने उसे कार में खींच लिया. मुंह दबा दिया इससे वह चीख नहीं पाईं.

गैंगरेप के बाद आरोपी पीड़िताओं को कार में बंधक बनाए घूमते रहे लेकिन आपकी सुरक्षा का दावा करने वाली बुलन्दशहर पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी. इसके बाद दोनों को देर रात दिल्ली-बदायूं स्टेट हाइवे पर 15 किलोमीटर दूर छोड़ कर फरार हो गए. इसके बाद आरोपी दोनों नाबालिगों को मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी देकर जंगल में फेंककर फरार हो गए.

 

एसपी सिटी डा. प्रवीन रंजन सिंह ने बताया कि पुलिस ने आरोपित पांचों युवकों के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है. पॉक्सो एक्ट लगाया गया है. साथ ही किशोरियों को मेडिकल के लिए भेजा है. दोनों पक्षों में पुरानी रंजिश सामने आ रही है. जांच की जा रही है.

आरोप सही मिलने पर नामजदों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा. पुलिस ने दोनों का मेडिकल कराने के बाद मामला दर्ज कर लिया है. पांचों आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं. इस वारदात के बाद एक बार फिर हाइवे पर सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं.

Share With:
Rate This Article