सामने आया सुकमा में नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए ‘ऑपरेशन प्रहार’ का वीडियो

रायपुर

सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए ‘ऑपरेशन प्रहार’ का एक वीडियो जारी किया है. इस ऑपरेशन को केंद्रीय रिजर्व सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) और स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने मिलकर अंजाम दिया था. वीडियो में एक जवान घटनाक्रम की बारे में जानकारी देता हुए नज़र आ रहे है, जबकि वहीं साथ में अन्य जवान नक्सलियों के खिलाफ मोर्चा संभाल रहे हैं. वीडियो में दोनों तरफ से चल रही गोलियों की आवाज़ भी साफ़-साफ़ सुनाई दे रही है.

छत्तीसगढ़ के बस्तर में 56 घंटे चले ऑपरेशन प्रहार में रविवार (25 जून) को 24 से ज्यादा नक्सलियों को सुरक्षा बलों के जवानों ने मार गिराया था, जबकि इस ऑपरेशन में 3 जवान शहीद हुए और 7 जवान घायल हुए थे.

डीजी डी.एम. अवस्थी ने रायपुर में और आईजी विवेकानंद सिन्हा के मुताबिक, मारे गए नक्सलियों में कई बड़े कमांडर भी शामिल हो सकते हैं. इस ऑपरेशन ने नक्सलियों को व्यापक पैमाने पर नुकसान पहुंचाया था.

रविवार (25 जून) को बीजापुर के तररेम में हुए दो आईईडी विस्फोट में जहां 3 जवान घायल हुए तो वहीं एक जवान के पैर में गोली लगी, जिसको चौपर से रेस्क्यू किया गया. इसकी पुष्टि पुलिस अधीक्षक के.एल. ध्रुव ने की. उन्होंने यह भी बताया कि आईईडी विस्फोट कर भाग रहे एक नक्सली को कैसे जवानों ने मौके पर ही मार गिराया.

इस ऑपरेशन को एसटीएफ, डीआरजी और सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन ने संयुक्त रूप से अंजाम दिया. इसे दो जगह बीजापुर और सुकमा जिले में एक साथ शुरू किया गया था. आईजी सिन्हा ने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ कि सुरक्षाबल तोंडामरका तक पहुंचने में कामयाब रहे. तोंडामरका को नक्सलियों की मांद माना जाता है, जहां आज तक सुरक्षाबल नहीं पहुंच पाए थे.

प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ऑपरेशन की समाप्ति पर जवानों के शौर्य की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि पुलिस पूरी रणनीति बनाकर ऑपरेशन चला रही है. इनकी सीधी लड़ाई नक्सलियों से है. पहली बार हमारे जवान इतने अंदर तक गए हैं. ये इलाका नक्सली लीडर हिड़मा का है. जवानों की शहादत पर उन्होंने कहा कि हमसे ज्यादा नुकसान उनका हुआ है.

Share With:
Rate This Article