ट्रंप के नाम पर हरियाणा के गांव का नामकरण फर्जी और अवैध- नूंह DC

हरियाणा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नाम पर एक गांव के नामकरण को एक फर्जी और अवैध आयोजन घोषित कर दिया है. इसके साथ ही गुरुग्राम से 46 किलोमीटर दूर स्थित मरोरा गांव में ट्रंप की तस्वीर वाले बैनर उतार लिए गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा से ठीक पहले बीते शुक्रवार को इस गांव का नामकरण ट्रंप के नाम पर किया गया था.

एक गैर सरकारी संगठन सुलभ ने एक कार्यक्रम का आयोजन कर मरोरा गांव का नाम ‘ट्रंप सुलभ गांव’ रख दिया था. अधिकारियों ने गांव में लगी ट्रंप की तस्वीरों वाले बोर्ड और बैनर हटा दिए. सुलभ के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक ने 23 जून को हरियाणा के मेवात इलाके में स्थित इस गांव का नामकरण करने के अलावा गांव के विकास के लिए कई परियोजनाएं भी शुरू की थीं.

मेवात के उपायुक्त एमआर शर्मा ने को बताया, “यह पूरा आयोजन बनावटी और फर्जी था और इसके आयोजकों का उद्देश्य देश-विदेश से रुपये इकट्ठा करना था.”

कुछ दिन पहले वाशिंगटन में बिंदेश्वर पाठक ने घोषणा की थी कि वह दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के प्रयास के तहत भारत में एक गांव का नाम ट्रंप पर रखेंगे.

Share With:
Rate This Article