जेल में हिंसा भड़काने और दंगा कराने के आरोप में इंद्राणी मुखर्जी के खिलाफ केस दर्ज

मुंबई

शीना मर्डर केस में जेल की सजा काट रही इंद्राणी मुखर्जी के खिलाफ जेल में हिंसा भड़काने के आरोप में केस दर्ज किया गया है. इंद्राणी पर आरोप है कि उसने एक कैदी की मौत के बाद महिला कैदियों को भड़काकर जेल में हिंसा कराई. इस हंगामे और बवाल में जेल के कई कर्मचारी घायल हो गए. जेल प्रशासन इस मामले की जांच कर रहा है.

जानकारी के मुताबिक, मुंबई के बाइकुला जेल में बंद एक कैदी की मौत के बाद इंद्राणी मुखर्जी ने महिला कैदियों को हिंसक प्रदर्शन के लिए उकसाया. उन्हें उनके बच्चों का इस्तेमाल करते हुए जेलकर्मियों के खिलाफ बवाल काटने के लिए उत्तेजित किया. इसके बाद कैदियों ने जेल की छत पर चढ़कर जमकर हंगामा किया. मारपीट और तोड़फोड़ किया.

इस बवाल के बाद जेल प्रशासन ने पाया कि अपनी बेटी शीना की हत्या के जुर्म में बंद इंद्राणी मुखर्जी इस हंगामे की मास्टर माइंड हैं. इसके बाद उनके खिलाफ पुलिस ने हिंसा भड़काने का केस दर्ज किया है. करीब 200 कैदियों के खिलाफ जेलकर्मियों के साथ मारपीट करने और हिंसक प्रदर्शन करने के आरोप में केस दर्ज किया गया है.

Share With:
Rate This Article