PRTC की लोक अदालत ने 41 कंडक्टरों को फिर नौकरी पर रखा

पटियाला(जोसन): पी.आर.टी.सी. के मैनेजिंग डायरैक्टर और सीनियर आई.ए.एस. की लोक अदालत ने आज यहां दोषी बना कर नौकरी से निकाले 41 कंडक्टरों को फिर से नौकरी पर बहाल कर दिया है जबकि 39 कंडक्टरों की अपीलों को डिसमिस कर दिया है. लोक अदालत में कुल 70 कंडक्टर अपनी अपीलें लेकर पहुंचे थे.

मनजीत सिंह नारंग ने बताया कि अब तक चोरी के मामलों में 149 कंडक्टर पिछले समय में दोषी करार देकर निकाले गए थे जिन्होंने अपनी अपीलें पी.आर.टी.सी. को लगाई हुई थीं. उन्होंने बताया कि पी.आर.टी.सी. ने किसी भी कंडक्टर को माफ करने के लिए अपने नियम बनाए हैं.

उन नियमों पर चलते हुए शनिवार को 41 कंडक्टरों को फिर नौकरी पर बहाल कर दिया है. उन्होंने बताया कि 39 कंडक्टरों की बड़ी गड़बडिय़ां होने के कारण उनको डिसमिस कर दिया गया है. मनजीत सिंह नारंग ने बताया कि पंजाब में विभिन्न रूटों और 150 किलोमीटर स्कीम के अंतर्गत बसें चलाने के प्रपोजल पर चलते हुए पी.आर.टी.सी. ने ठेकेदारों की तरफ से आए टैंडरों को खोला है.

Share With:
Rate This Article