ट्रंप सरकार में इफ्तार पार्टी बंद, व्हाइट हाउस में टूटी 20 साल पुरानी परंपरा

वॉशिंगटन

पिछले दो दशकों से चल रही पुरानी परंपरा को अमरीकी राष्ट्रपति ने तोड़ दिया है. दरअसल, हर साल रमजान के मौके पर अमरीकी राष्ट्रपति आवास व्हाइट हाऊस में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जाता रहा है, लेकिन इस बार अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप ने रमजान के अवसर पर मुसलमानों को तगड़ा झटका दिया है.

पिछले 20 साल में यह पहली बार है, जब व्हाइट हाऊस में मुसलमानों को इफ्तार पार्टी नहीं दी जाएगी. हालांकि इससे पहले ट्रंप और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने बयान जारी कर मुस्लिमों को रमजान की शुभकामनाएं दी थी. दुनिया भर में सोमवार को ईद मनाई जाएगी.

वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, अमरीका के तीसरे राष्ट्रपति थॉमस जेफरसन ने 1805 में इस परंपरा की शुरुआत की थी. हालांकि इसके बाद व्हाइट हाऊस में इफ्तार पार्टी की शुरुआत 1996 में राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने की. इस परंपरा को जॉर्ज डब्ल्यू बुश और बराक ओबामा ने भी जारी रखा था.

इस इफ्तार पार्टी में मुस्लिम समुदाय के प्रतिष्ठित सदस्यों के साथ ही मुस्लिम देशों के राजनयिक और सीनेटर शामिल होते रहे हैं. इस बार ट्रंप ने इफ्तार पार्टी देने की बजाय सिर्फ शुभकामनाएं देकर 21 साल पुरानी परंपरा को तोड़ दिया. बता दें कि ट्रंप ने न सिर्फ ईद-उल-फितर की शुभकामनाएं दी, बल्कि रमजान शुरू होने पर भी मुस्लिमों को बधाई दी थी.

Share With:
Rate This Article