स्पेशल खंजर और हमले को रिकॉर्ड करने के लिए कैमरे लेकर आई थी पाकिस्तानी BAT

दिल्ली

सीमा पर पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) द्वारा सैनिकों पर हमला किए जाने के बाद उनका बर्बर चेहरा सामने आया है. खबरों के अनुसार, BAT के सैनिक अपने साथ खास तरह से सिर पर बांधे जा सकने वाले कैमरे लेकर आए थे ताकि भारतीय सैनिकों को हत्या को रिकॉर्ड कर सकें.

एक अधिकारी के अनुसार, ऑफिसर ने बताया कि 22 जून को घुसपैठ के दौरान BAT के आतंकियों ने सिर पर बंधे बैंड में कैमरा लगाया हुआ था ताकि वे अपने विरोधियों का गला काटते वक्त उसे रिकॉर्ड कर सकें. ऑफिसर ने आगे कहा, ‘इस बात की जांच की जानी चाहिए कि क्या कैमरा सीमा पार पाक आर्मी से जुड़ा होता है और लाइव जानकारियां देता रहता है. फिलहाल हम कैमरे के डेटा की जांच करेंगे.

हमले के बाद एलओसी से सटे पुंछ जिले के गुलपुर सेक्‍टर में BAT टीम के एक सदस्‍य का शव बरामद किया गया, जिसे स्‍थानीय पुलिस को सौंप दिया गया है.

इस साल इस तरह का ये तीसरा हमला है जब पाकिस्‍तानी टीम एलओसी को पार कर 600 मीटर भीतर भारतीय सीमा में आ गयी. यह घुसपैठ की घटना शुक्रवार दोपहर दो बजे हुई. वास्‍तव में BAT पाकिस्तान की स्पेशल फोर्स से लिए गए सैनिकों का ग्रुप है. साथ ही इसमें सैनिकों जैसी ट्रेनिंग वाले आतंकी भी शामिल हैं.

इस हमले में आतंकियों का सामना करते हुए दो भारतीय जवान शहीद हो गए इनमें एक महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद के 34 वर्षीय संदीप जाधव और दूसरे महाराष्‍ट्र कोल्‍हापुर के 24 वर्षीय माने सावन बाल्‍कु थे.

इसी तरह से गत एक मई को पाकिस्तानी BAT आतंकियों ने कश्मीर के पुंछ में घुसपैठ की थी. इस दौरान 2 शहीदों के शव का सिर काट लिया गया था. इससे पहले फरवरी माह में भी BAT ने हमला किया था हालांकि उस दौरान किसी तरह की क्षति नहीं हुई थी.

Share With:
Rate This Article