भारत की अंतरिक्ष में एक और उड़ान, एक साथ लॉन्च किए 31 सैटलाइट्स

दिल्ली

इसरो ने शुक्रवार को अंतरिक्ष के क्षेत्र में एक और कामयाबी अपने नाम की. इसरो ने पीएसएलवी-सी38 का सफल प्रक्षेपण किया है. पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित पूरे देश के लोगों की ओर से बधाई संदेश दिए जा रहे हैं.

पीएम मोदी की ओर से ट्वीट कर कहा गया कि इसरो की 40वीं सफल उड़ान के लिए बधाई! ध्रुवीय प्रक्षेपण यान से 15 देशों के 31 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर इसरो ने देशवासियों को गर्व करने का मौका दिया है.

इसरो की सफल उड़ान पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी भावनाएं व्यक्त करते हुए कहा कि इसरो के वैज्ञानिक अपने प्रत्येक सफल अंतरिक्ष प्रक्षेपण यान से भारत का मान बढ़ाने का कार्य करते हैं. उन्होंने एक साथ 31 उपग्रह छोड़ने को लेकर इसरो को बधाई दी.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इसरो की अंतरिक्ष में कामयाब उड़ान पर बधाई देते हुए कहा कि विज्ञान मानवता की सेवा है, जिसे हमारे वैज्ञानिकों संभव कर दिखाया है. हमें अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है.

गौरतलब है कि इसरो की ओर से कार्टोसैट-2 श्रृंखला के साथ 31 नैनो उपग्रहों का शुक्रवार को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्पेस स्टेशन से सुबह नौ बजकर 29 मिनट पर सफल प्रक्षेपण किया गया. प्रक्षेपित उपग्रहों में 14 देशों के 29 सैटेलाइट और भारत के एक नैनो सैटेलाइट शामिल हैं.

इसरो की ओर से जिन देश के उपग्रह छोड़े गए हैं, उनमें ऑष्ट्रिया, बेल्जियम, लिथुआनिया, स्लोवाकिया, यूनाइटेड किंगडम और यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका जैसे देश शामिल हैं. ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पर ले जाए गए इन उपग्रहों का कुल वजन लगभग 955 किलोग्राम है.

Share With:
Rate This Article