कतर में फंसे भारतीयों को ‘एयरलिफ्ट’ करने की तैयारी में मोदी सरकार

दिल्ली

कतर में फंसे अपने नागरिकों को भारत एयरलिफ्ट के जरिए निकालेगा. इसके लिए अगले सप्ताह से विशेष अभियान चलाया जाएगा. हाल ही में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन समेत सात मुस्लिम राष्ट्रों ने कतर के साथ राजनयिक संबंध खत्म कर लिए थे, जिससे खाड़ी क्षेत्र में संकट गहरा गया है.

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि कतर में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए एयर इंडिया एक्सप्रेस 25 जून से आठ जुलाई तक केरल और दोहा के बीच विशेष उड़ानें संचालित की जाएंगी. इन भारतीयों को वापस स्वदेश लाने के लिए 186 सीटों वाली बोइंग 737 का इस्तेमाल किया जाएगा. बृहस्पतिवार और शुक्रवार को जेट एयरवेज मुंबई से दोहा के बीच अतिरिक्त उड़ाने शुरू करेगा.

सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अतिरिक्त उड़ानों को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्री एजी राजू से बातचीत की, ताकि उन भारतीयों को स्वदेश वापस लाया जा सके, जिनको टिकट नहीं मिल पा रही है. इस पर उड्डयन मंत्रालय ने विदेश मंत्रालय को आश्वस्त किया कि कतर से भारतीय नागरिकों को समय से वापस लाने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे. इससे पहले विदेश मंत्रालय ने कहा था कि वह कतर संकट पर लगातार निगाह बनाए हुए है. इससे खाड़ी क्षेत्र में रह रहे भारतीयों पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

Share With:
Rate This Article