मध्य प्रदेश: पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने वाले 15 लोगों को भेजा गया जेल

बुरहानपुर (मध्य प्रदेश)

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में पाकिस्तान की जीत पर आतिशबाजी और भारत विरोधी नारेबाजी करने वाले देशद्रोह के 15 आरोपियों को मंगलवार को कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच न्यायालय में पेश किया गया. यहां से सभी को खंडवा जेल भेज दिया गया.

कोर्ट पहुंचे आरोपियों को देख वहां मौजूद वकीलों व आमजन ने रोष जताया. लोगों का आक्रोश देख पुलिस सुरक्षा के बीच आरोपियों को जेल भेजा गया. इधर कुछ वकीलों ने जिला अधिवक्ता संघ को आवेदन दिया है कि इन आरोपियों के पक्ष में कोई भी वकील पैरवी ना करे.

सीएसपी बीपीएस परिहार ने बताया कि मंगलवार को दोपहर करीब 2 बजे सभी आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट ले जाया गया. यहां न्यायाधीश प्रीति जैन के समक्ष आरोपियों को प्रस्तुत किया गया. न्यायाधीश ने सभी को जेल भेजने के आदेश दिए. इसके बाद पुलिस ने उन्हें खंडवा जेल भेज दिया. न्यायालय परिसर में काफी भीड़ थी. यहां पर कोई अप्रिय स्थिति ना बने इसके लिए शाहपुर व अन्य थानों के थाना प्रभारियों सहित पुलिस बल तैनात किया गया था.

जिला अधिवक्‍ता संघ के अध्यक्ष राजेश कोरावाला ने बताया कि कुछ वकीलों ने संघ को आवेदन दिया है कि इन आरोपियों के पक्ष में कोई भी वकील पैरवी ना करें. इस संबंध में हमने उनका आवेदन लिया है जिस पर विचार चल रहा है. आगामी दिनों में बैठक में इस पर विचार विमर्श होगा. इन वकीलों का कहना है कि ऐसे लोगों का केस कोई भी वकील ना लड़े.

उल्लेखनीय है कि रविवार रात फाइनल मैच में पाकिस्तान की जीत पर आतिशबाजी और नारेबाजी करने पर ग्राम मोहद में तनाव की स्थिति बन गई थी. पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर स्थिति नियंत्रित की थी. इस मामले में पुलिस ने 15 नामजद सहित अन्य लोगों के खिलाफ देश विरोधी कृत्य के लिए देशद्रोह का प्रकरण दर्ज किया है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment