गोरखालैंड आंदोलन : प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बल के बीच झड़प में एक अधिकारी सहित तीन की मौत

पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में गोरखालैंड राज्य की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बल जवानों के बीच हिंसक झड़प की खबर है. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस वाहनों में आग लगाने के साथ-साथ सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया है.

सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि इस दौरान इंडियन रिजर्व बटालियन (आईआरबी) के अधिकारी किरण तमांग पर खुकरी से हमला किया गया था जिसमें उनकी मौत हो गई है. वहीं गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) ने अपने दो समर्थकों की मौत का दावा किया है.

जुलूस में क्रांतिकारी मा‌र्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी अपने कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी का झंडा लेकर शामिल हुए. बंगाल सरकार के खिलाफ हजारों की संख्या में लोगों ने राष्ट्रीय झंडा लेकर गोजमुमो व क्रामाकपा का झंडा लेकर डंबर चौक से जुलूस निकाला.

जुलूस शहर की परिक्रमा करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची. लेकिन पुलिस ने अपने बेरिकेट के आगे किसी को जाने नहीं दिया. पुलिस ने जुलूस को वहीं रोक दिया. जिसके समर्थक सड़क पर बैठकर ही नारेबाजी करने लगे. जुलूस के बाद नोवेल्टी रास्ते होकर यह डंबर चौक में पथसभा में तब्दील में बदल गई.

जुलूस में शांति बनाए रखने को लेकर पुलिस के साथ एसएसबी व सीआरपीएफ के जवान तैनात थे. सभा को संबोधित करते हुए गोजमुमो के केंद्रीय समिति के सह सचिव सामुयल गुरूंग ने कहा कि बंगाल सरकार द्वार खेती में काम करने वाले सामने को हथियार बताया गया है.

 

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment