जम्मू-कश्मीर: बुरहान-सब्जार के बाद लश्कर आतंकी जुनैद मट्टू को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुए एनकाउंटर में लश्कर के टॉप कमांडर जुनैद मट्टू समेत दो आतंकियों को मार गिराया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, कुलगाम के अरवानी गांव में ईदगाह मोहल्ले में फायरिंग चल रही थी और सुरक्षाबलों ने आतंकियों को एक बिल्डिंग में घेर लिया था.

इन आतंकियों में लश्कर का कमांडर जुनैद मट्टू भी शामिल था. जुनैद मट्टू आठ घंटे तक बिल्डिंग में छिपा रहा था. इस इलाके में आतंकियों के होने की सूचना मिलते ही सुरक्षाबल के जवानों ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था.

आर्मी के साथ पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने खुफिया जानकारी के आधार पर शुक्रवार की सुबह ऑपरेशन चलाया. हालांकि आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई गोलीबारी में एक नागरिक की मौत हो गई है.

जुनैद मट्टू पिछले साल पुलिस वाहन पर दिनदहाड़े किए गए हमले में शामिल था, जिसमें तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी. उसपर 10 लाख रुपए का ईनाम था. कश्मीर के IGP मुनीर खान ने कहा, “आतंकवादियों ने पुलिस जवानों को डराने और धमकाने के लिए वीडियोज बनाए.

लेकिन हमें ऐसी परिस्थितियों से निपटना आता है. कुलगाम ऑपरेशन जारी है. हम फायरिंग का जवाब दे रहे हैं. दक्षिण कश्मीर में उत्तरी कश्मीर के मुकाबले उग्रवादियों की मौजूदगी ज्यादा रहती है.”

वहीं, इससे पहले कुलगाम जिले में गुरुवार को आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी की गोली मारकर हत्या कर दी थी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “कुलगाम जिले के बोगल्ड गांव में हवलदार शबीर अहमद डार को उसके घर के पास आतंकियों द्वारा गोली मारी गई. उसे जिला अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां पहुंचते ही उसे मृत घोषित कर दिया गया.” मृतक पुलिसकर्मी को बंदूक की कई गोलियां लगी थीं.

इसके अलावा गुरुवार को ही कश्मीर घाटी में एक अन्य पुलिसकर्मियों की गोली लगने से मौत हो गयी. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने रात करीब 9.30 बजे हैदरपोरा इलाके में एक पुलिस दल पर हमला किया. इस हमले में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए और उनको सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में शहजाद नामक कांस्टेबल की मौत हो गई.

 

 

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment