रूसी सेना ने हवाई हमले में IS सरगना बगदादी के मारे जाने की संभावना जताई

रूस की सेना ने आज कहा कि वह इसकी पुष्टि करने की कोशिश कर रही है कि पिछले महीने सीरिया में रात के समय उसके लड़ाकू विमानों द्वारा किए गए हमलों में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का सरगना अबू बकर अल बगदादी मारा गया या नहीं. वहीं, अमेरिका ने कहा कि वह फिलहाल बगदादी की मौत की खबरों की पुष्टि नहीं कर सकता.

रूसी सेना ने एक बयान में कहा कि सुखोई लड़ाकू विमानों ने 28 मई को रक्का के नजदीक एक ठिकाने पर 10 मिनट तक हमले किए जहां इस्लामिक स्टेट के नेता बैठक के लिए एकत्र हुए थे.

बयान में कहा गया, तथाकथित आईएस सैन्य परिषद के वरिष्ठ कमांडरों, मध्यम स्तर की रैंक वाले 30 फील्ड कमांडरों और उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराने आए 300 आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया गया. इसमें कहा गया, सूचना के अनुसार इस बैठक में आईएस प्रमुख इब्राहीम अबू बकर अल बगदादी भी मौजूद था और हमले में वह मारा गया. इस सूचना की विभिन्न माध्यमों से पुष्टि करने की कोशिश की जा रही है. उधर, अमेरिका नीत गठबंधन ने कहा कि इस समय वह इन खबरों की पुष्टि नहीं कर सकता.

ऑपरेशन इन्हेरेंट रिजॉल्व से जुड़े अमेरिकी कर्नल रेयान डिल्लन ने कहा, हम इस समय इन खबरों की पुष्टि नहीं कर सकते. रूसी सेना के बयान में कहा गया कि हमला अंतरराष्टीय समयानुसार 27 मई को रात नौ बजकर 35 मिनट से रात नौ 45 मिनट तक चला. हमले में मरने वालों में रक्का का तथाकथित शासक और आईएस का सुरक्षा प्रमुख शामिल हैं.

बयान में कहा गया कि रूस ने हमले के बारे में अमेरिका को सूचना दे दी थी. इराक में जन्मा बगदादी दुनिया का सर्वाधिक वांछित व्यक्ति है. उसे सार्वजनकि रूप से तीन साल पहले तब देखा गया था जब उसने खुद को खलीफो घोषित किया था.

विगत में कई बार उसके मारे जाने या उसके घायल होने के बारे में खबरें आ चुकी हैं. मार्च में अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा था कि बगदादी की मौत नजदीक है क्योंकि उसके लगभग सभी उप प्रमुख मारे जा चुके हैं.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment