पंजाब विधानसभा में विपक्षी दलों का हंगामा, कार्यवाही जारी

पंजाब विधानसभा में दूसरे दिन की कार्यवाही हंगामे के साथ शुरू हुई। विपक्षी दलोें के विधायकाें ने हंगामा शुरू किया और नारेबाजी की तो सत्‍ता पक्ष ने भी इसका जवाब दिया। इससे सदन में भारी शाेरगुल हो गया और इस कारण स्‍पीकर ने सदन की कार्यवाही 30 मिनट के लिए स्‍थगित की दी।

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया। शिअद के विधायक अपनी सीट से खड़े हो गए और किसानों के मुद्दे पर चर्चा की मांग की। शिअद के विधायक किसानों के मुद्दे पर काम रोको प्रस्ताव लाना चाहते थे। स्पीकर ने इसे ठुकरा दिया और कहा कि आप इस पर शून्यकाल में बात करें।

इस पर अकाली विधायक सदन की वेल में आ गए और नारेबाजी करने लगे। इसके जवाब में कांग्रेस के विधायकों ने भी अकाली दल के विरुद्ध नारेबाजी करने लगे। कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भी अकाली दल पर हमले किए और अकालियों के हंगामा करने पर कटाक्ष किया। सिद्धू ने कहा, अकालियों का हंगामा चोरी आैर ऊपर से सीनाजोरी की तरह है।

दोबारा विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई तो मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि एससी पोस्ट स्कालरशिप के फंड को अकाली सरकार के दौरान डायवर्ट करने की जाँच होगी। मुख्यमंत्री ने इसकी घोषणा की। अहम बात यह है कि विभाग के मंत्री साधू सिंह धर्मसोत ने सदन में कहा कि कोई भी फंड डायवर्ट नहीं किया गया।

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment