पनामा पेपर्स लीक मामले में बोले नवाज शरीफ, मेरे खिलाफ साजिश हो रही है

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पनामागेट मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित दल के समक्ष बुधवार को हाजिर हुए. वह पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री हैं जो पद पर रहते हुए इस तरह के पैनल के सामने पेश हुए.

शरीफ ने कहा कि उन्होंने और उनके परिवार ने कुछ नहीं किया है ये उनकी सरकार के खिलाफ साजिश है. शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने न्यायिक अकादमी रवाना होने के पहले अपने पिता और उनके प्रमुख सहयोगियों की एक तस्वीर पोस्ट करके ट्वीट किया है.

आज के दिन ने इतिहास रच दिया है और बहु प्रतीक्षित और स्वागत योग्य उदाहरण स्थापित किया हैं. संयुक्त जांच दल के प्रमुख वाजिद जिया ने शरीफ को मामले से जुड़े सभी कागजात लेकर बुधवार छह सदस्यीय दल के समक्ष तलब किया.

कमेटी के सामने से पेश होने से पहले शरीफ ने सुबह अपने परिजनों और करीबी सहयोगियों से विचार विमर्श किया है. उन्होंने अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं को उनके साथ आने के लिए मना किया है.

शरीफ के कजाख्स्तान से वापस लौटने के बाद उन्हें समन जारी किया गया। शरीफ शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए कजाखस्तान गए थे.

सुप्रीम कोर्ट ने पनामा पेपर मामले में 20 अप्रैल को जेआईटी का गठन किया था और प्रधानमंत्री, उनके बेटे और मामले से जुड़े हर व्यक्ति से पूछताछ करने का अधिकार दिया था. यह दल धन शोधन मामले की जांच कर रहा है जिसके जरिए लंदन के पॉश पार्क लेन क्षेत्र में चार अपार्टमेंट खरीदे गए थे.

Share With:
Rate This Article