हिमाचल प्रदेश के ऊपरी क्षेत्रों में बारिश, मैदानी इलाकों में गर्मी

हिमाचल प्रदेश में मौसम की अनिश्चितता बरकरार है। पिछले 24 घंटे के दौरान शिमला व धर्मशाला में बारिश दर्ज की गई जबकि मैदानी जिलों में गर्मी का सामना लोगों को करना पड़ा। शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान पहुंचा है। धौलाधार और रोहतांग की चोटियों पर हल्का हिमपात दर्ज किया गया। पिछले 24 घंटे के दौरान कुछ क्षेत्रों में भारी बारिश दर्ज की गई है।

सबसे अधिक बारिश कुमारसैन में 37 मिलीमीटर बारिश हुई। कुछ क्षेत्रों में ओलावृष्टि से मटर व फ्रांसबीन की फसल तबाह हो गई है। बारिश, ओलावृष्टि से ऊपरी क्षेत्रों में तापमान में भी गिरावट आई है लेकिन मैदानी क्षेत्रों में दो दिन से मौसम शुष्क बना हुआ है। आने वाले दिनों में मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में पश्चिमी हवाओं का असर अधिक रह सकता है। इससे शिमला, सोलन, सिरमौर व मंडी जिलों में भारी बारिश होगी व तापमान में उतार चढ़ाव का सिलसिला जारी रहेगा।

मौसम विभाग के अनुसार हिमाचल प्रदेश में अभी पूर्व मानसून सक्रिय हुआ है, जिससे मध्यम ऊंचाई व अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश होगी। 19 जून तक मौसम की यह अनिश्चितता बरकरार रहेगी। बीते 24 घंटे के दौरान प्रदेश के अधिकतम तापमान में 3 से 4 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम में 1 से 2 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। मंगलवार को प्रदेश का अधिकतम तापमान ऊना में 39.0 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि न्यूनतम तापमान कल्पा में 7.4 डिग्री था।

Share With:
Rate This Article