मथुरा: नहर में कार गिरने से एक ही परिवार के 9 लोगों समेत 10 की मौत

थाना मगोर्रा के मथुरा-जाजमपट्टी रोड पर रविवार तड़के फतेहपुरसीकरी नहर में कार गिर गई. इससे बरेली निवासी दंपति समेत 10 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. मरने वालों में 5 पुरुष और 5 महिलाएं हैं.

इसमें 9 शव एक ही परिवार के व एक चालक का शव है. कार में 10 लोग सवार थे. चालक का शव काफी देर बाद नहर में कुछ दूर मिला.

ग्रामीणों में पुलिया पर होने वाले हादसों को लेकर रोष था और वे शव नहीं उठने दे रहे थे। करीब 4.30 घंटे बाद अधिकारी पहुंचे और उन्हें  समझा-बुझाकर शव कब्जे में लिया। राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने भी ट्वीट कर मथुरा हादसे पर दुख जताया है।

महेश शर्मा निवासी राजीव कालोनी, सुभाष नगर, बरेली अपनी पत्नी दीपिका शर्मा और परिवार के अऩ्य लोगों पूनम शर्मा, हार्दिक शर्मा, रितिक शर्मा, रोहन, खुशबू, हिमांशी और सुरभि के साथ दौसा, राजस्थान स्थित मेहंदीपुर बालाजी के दर्शन करने जा रहे थे.सभी रात करीब 11 बजे निकले थे.

अलसुबह मथुरा की ओर से भरतपुर जाते समय सुबह करीब 4.30 बजे मथुरा-जाजमपट्टी रोड पर कार अनियंत्रित होकर फतेहपुर सीकरी नहर में जा गिरी. चीख पुकार मचने लगी, लेकिन सुबह का वक्त होने से कोई उनकी आवाज नहीं सुन सका.

सबसे पहले पास के मकेरा गांव निवासी युवक दर्शन सिंह ने सुबह करीब 4.40 बजे नहर में कार पड़ी देखी. वह सुबह सड़क पर दौड़ लगाने निकला था. दर्शन सिंह की सूचना पर अन्य ग्रामीण पहुंचे और ट्रैक्टर से कार किनारे खींचकर शवों को बाहर निकाला. इसके बाद पुलिस पहुंचीं.

दर्शन सिंह के अनुसार उसे नहर में कार गिरी हुई दिखी. संभवतः चालक ने कार का शीशा तोड़कर बाहर छलांग लगाई और आवाज देने की कोशिश की, लेकिन पानी के बहाव में आगे चला गया.  शीशा टूटने से कार में पानी भर गया. इसमें 10 लोगों की मौत हो चुकी थी. लोगों की मदद से सभी शव निकाले गए.

Share With:
Rate This Article