दिल्ली मेट्रो में जेब काटने वालों में 77% महिलाएं, CISF ने बनाई स्पेशल टीम

दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में लगे सीआईएसएफ ने मेट्रो में चोरी की घटनाओं से जुड़ा चौंकाने वाले आंकड़े जारी किए हैं. इन आंकड़ों की माने तो इस साल पिछले साल से तीन गुना ज्यादा जेब काटने के मामले सामने आए. वहीं, महज़ जनवरी से मई तक के डेटा को देखें तो पॉकेट मारी में 77 फीसदी महिलाएं पकड़ी गई हैं.

सीआईएसएफ के अनुसार, पकड़े गए 521 पॉकेटमारों में से 401 महिलाएं थीं. ये 77 प्रतिशत है. सीआईएसएफ के एक  अधिकारी ने बताया, ‘स्पेशल टीम हर लाइन पर चोरी रोकने के लिए अभियान चलाती रहेगी. सबसे ज्यादा पॉकेट मारी की घटनाएं चांदनी चौक, शाहदरा, हुडा सिटी सेंटर, कीर्ति नगर, नई दिल्ली और तुगलकाबाद में होती हैं.’

मेट्रो में चोरी पर रोक लगाने के लिए सीआईएसएफ ने पिछले महीने एक अभियान शुरू किया है. चोरी पर रोक लगाने के लिए एक स्पेशल टीम होगी. टीम में एक सब-ऑफिसर और एक कॉन्सटेबल होगा जो संदिग्धों पर हर तरह से नजर रखेगा.

सीआईएसएफ की इस स्पेशल टीम की मदद के लिए ग्राउंड पर स्टाफ तैयार रहेगा. टीम सादे कपड़ों में होगी जिससे वह लोगों के बीच में रहकर संदिग्धों को पकड़ पाए.

इसी महीने की 2,3 और 4 तारीख को CISF ने 21, 15 और 16 महिलाओं को पकड़ा है. इनसे सोने के गहने और कैश बरामद हुआ है. आरोपियों को दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया गया है.

Share With:
Rate This Article