किसानों को कर्ज माफी नहीं, सिर्फ गोली दे सकती है मोदी सरकार: राहुल गांधी

मंदसौर

मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस फायरिंग में पांच किसानों की मौत के बाद लोगों का गुस्सा उबाल पर है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को मंदसौर के किसानों से मुलाकात करने के लिए निकले. वह राजस्थान-मध्य प्रदेश सीमा स्थित निमोड़ा से अपनी सिक्योरिटी को चकमा देकर बाइक पर सवार होकर निकल गए. लेकिन उन्हें मध्य प्रदेश पुलिस ने रोक लिया.

इसके बाद वह पैदल आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे थे. जिसके बाद नयागांव में मध्य प्रदेश पुलिस ने उन्हें एहतियातन हिरासत में ले लिया. उन्हें अस्थायी जेल भेजा गया.

इसके बाद राहुल ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि मोदी सरकार उद्योगपतियों की सरकार है. किसानों को यह ‘गोली’ देती है. उन्होंने कहा, मोदी सरकार के तीन साल में देश के किसान बदहाल हो गए. मोदी किसानों को कर्ज माफी नहीं केवल गोली दे सकते हैं. मैं केवल किसानों से मिलना चाहता था जो इस देश के नागरिक हैं.

शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि पूरे प्रशासन को मुझे मंदसौर जाने से रोकने में लगा दिया गया. मोदी कॉरपोरेट लोगों का करोड़ों का लोन माफ कर सकते हैं लेकिन किसानों का कर्ज माफ नहीं करते.

वहीं, प्रशासन ने मंदसौर में आज लोगों की दिक्कत को देखते हुए शाम 4 से 6 बजे तक महिलाओं और बच्चों के लिए कर्फ्यू में ढील दी है.

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने स्वीकार किया है कि मंगलवार को प्रदेश के मंदसौर जिला स्थित पिपलिया मंडी में किसानों के प्रदर्शन के दौरान पांच किसानों की मौत पुलिस फायरिंग से हुई है. इससे पहले पिछले दो दिनों से प्रदेश सरकार पुलिस फायरिंग से इनकार कर रही थी.

इस पुलिस फायरिंग में पांच किसानों की मौत होने के साथ-साथ 6 अन्य किसान घायल भी हुए थे. इसके चलते राज्य के पश्चिमी भाग में अपनी उपज का वाजिब दाम लेने सहित 20 मांगों को लेकर एक जून से आंदोलनरत किसान अब मध्यप्रदेश सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई करने पर उतर हैं.

Share With:
Rate This Article