रेत खनन मामले में सियासी घमासान तेज, आम आदमी पार्टी ने किया प्रदर्शन

जालंधर

पंजाब में रेत खनन के मामले में मचे सियासी घमासान के बीच विपक्षी आम आदमी पार्टी ने सोमवार को कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह के खिलाफ स्थानीय जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना दिया और आरोप लगाया कि राणा को बचाने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हरसंभव प्रयास कर रहे हैं.

कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह रेत खनन के मामले में फंसे हुए हैं और इसी के खिलाफ आम आदमी ने यहां धरना दिया है. धरने की अगुवाई आप विधायक सुखपाल सिंह खैहरा ने की जो कभी कांग्रेस में राणा के धुर विरोधी रहे हैं.

धरने के दौरान आप कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए खैहरा ने कहा, रेत खनन के लिए कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने अपने मुलाजिमों के सहारे चार खड्ढों पर कब्जा कर लिया और अब मुख्यमंत्री उन्हें बचाने की कोशिश कर रहे हैं.

खैहरा ने कहा, इस मामले में मुख्यमंत्री 6 दिन तक चुप थे. इसके बाद उन्होंने जांच का निर्देश दिया. इस दौरान उन्होंने राणा को कागजात तैयार करवाने का मौका दे दिया और अब वह इसी के बल पर दावा कर रहे हैं कि चारों उनके कर्मचारी नहीं है जबकि उनमें से एक अभी भी उनकी कंपनी का निदेशक है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment