जयपुर: गर्मी से बिदका घोड़ा, कार का शीशा तोड़कर अंदर जा घुसा

जयपुर

यहां हुए हादसे में बेकाबू घोड़ा दौड़ता हुआ सामने से अा रही कार से टकरा गया। कार चला रहा शख्स कुछ समझ पाता कि घोड़ा आगे का शीशा तोड़ते हुए कार के अंदर घुस गया। हादसे में कार का ड्राइवर जख्मी हो गया। घोड़े को दौड़ते देखकर सड़क पर चल रहे लोग घबरा गए।

– मामला रविवार का है। जयपुर में एक तांगेवाले ने अपना घोड़ा सड़क किनारे बांध दिया था। घोड़े के मुंह पर चारे की पोटली बंधी हुई थी।
– दोपहर के वक्त टेम्परेचर 42 डिग्री सेल्सियस पार कर गया तो घोड़ा गर्मी बर्दाश्त नहीं कर पाया अौर रस्सी तोड़कर भाग निकला। उसके मुंह पर चारे की जो पोटली बंधी थी, भागने के कारण आंखों पर चढ़ गई।
– गर्मी से बिदका घोड़ा दिखाई नहीं देने पर और बौखला गया। वह सड़क पर इधर-उधर भागने लगा। इस दौरान वह दो बाइक से भी टकराया, जिसमें बाइक सवार भी जख्मी हो गए।
– घोड़े की अंधी दौड़ देखकर सड़क पर चल रहे लोग घबरा गए। घोड़े पर पानी फेंका गया, मगर वह काबू में नहीं आया।
– इसी बीच पंकज जोशी नाम के शख्स कार से जा रहे थे, तभी भागता हुआ घोड़ा सामने बोनट से आ टकराया। वे कुछ समझ पाते, इसके पहले ही घोड़ा विंड स्क्रीन तोड़ते हुए कार के अंदर बराबर की सीट पर आ गया। जोशी के हाथ और पैर घोड़े के नीचे दब गए।
– वहां मौजूद लोगों ने बड़ी मुश्किल से कार का दरवाजा खोल खींचतान कर घोड़े को कार से बाहर निकाला।
– जख्मी होने के बाद घोड़ा एकदम शांत हो गया। लोगों ने उसे पकड़ा, बांधा और पुलिस को बुलाया। इसके बाद वेटरनरी टीम बुलाकर इलाज के लिए भेज दिया।

कार मालिक जख्मी, कई जगह कार के शीशे घुसे
– पंकज ने बताया कि वह किसी रिश्तेदार को रेलवे स्टेशन छोड़ने आए थे। बैग भूल गए थे, तो घर जाकर फिर से बैग लेकर स्टेशन जा रहे थे।
– “जयपुर क्लब के बाहर अचानक कार के आगे घोड़ा आया, टकराया और कार में घुस गया। मैं कुछ समझता इससे पहले मेरी कार टूट चुकी थी, शीशे मेरे शरीर में कई जगह घुस गए। घोड़ा लगभग मेरे ऊपर से होते हुए बगल की सीट पर गया था।”

Share With:
Rate This Article