20 हजार लोगों को नौकरी देगी इन्फोसिस, छंटनी की खबरों को बताया अफवाह

दिल्ली

इन्फोसिस के सीओओ यूबी प्रवीण राव ने कहा कि भारी पैमाने पर नौकरियां कम होने की बात अतिश्योक्ति है. उन्होंने कहा कि कंपनी की योजना इस साल 20,000 लोगों को नौकरी देने की है. राव ने कहा कि इन्फोसिस काफी नौकरियां पैदा कर रहा है और टेक्नॉलजी आधारित परिवर्तनों से इन्फोसिस जैसी कंपनियों के लिए नए अवसर पैदा हो रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘छंटनी को लेकर फैली अफवाहों पर अगर बात करें तो यह परफॉर्मेंस आधारित है और हम हर साल ऐसा करते हैं. ऐसे लोगों की संख्या 300-400 होगी जो कि बीते वर्षों की तरह ही है.’

हालांकि, उन्होंने इन्फोसिस के सह-संस्थापक एनआर नारायणमूर्ति की उस बात पर प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर कंपनियों के सीनियर एग्जिक्यूटिव्स अपनी कटी सैलरी लें और ट्रेनिंग एंप्लॉयी में निवेश करें तो नौकरियों को सुरक्षित रखना संभव है.

इस मामले में विभिन्न एंप्लॉयी यूनियनों ने लेबर कमिशन और राज्यों सरकारों से मामले में हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई है. राव ने कहा, ‘मुझे लगता है कि छंटनी की खबरें बहुत बढ़ा-चढ़ाकर पेश की जा रही हैं. इन्फोसिस ने पिछले साल 20,000 लोगों को नौकरी दी थी और इस साल भी कंपनी इतने ही लोगों को रोजगार देगी.’

Share With:
Tags
Rate This Article