SBI ने सर्विस चार्ज के नियमों में किया बदलाव, ग्राहकों की जेब पर पड़ेगा असर

दिल्ली

भले ही देश के सबसे बड़े कर्जदाता एसबीआई ने अपने होम लोन ग्राहकों को हाल ही में सस्ती दरों का तोहफा दिया है लेकिन एक जून से अपनी कई सर्विसेज शुल्क में बढ़ोत्तरी कर दी है.

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने सर्विस चार्ज में बड़ा बदलाव किया है. एसबीआई के सर्विस चार्ज से जुड़े नए नियम 1 जून से प्रभावी हो गए हैं. नए नियम के अनुसार एसबीआई की कई सेवाओं के लिए ज्यादा पैसों का भुगतान करना पड़ेगा.

कैश विड्राल करने पर चार्ज लगेगा. एसबीआई से कैश विड्रॉल सिर्फ 4 बार तक के लिए ही मुफ्त रहेगा, इसमें एटीएम ट्रांजेक्शन भी शामिल है. एसबीआई की ब्रांच से भी चार बार से ज्यादा कैश विड्राल करेंगे तो हर ट्रांजेक्शन पर 50 रुपए का सर्विस चार्ज, सर्विस टैक्स के साथ लगेगा.

एसबीआई के एटीएम से चार बार से ज्यादा विड्राल करेंगे तो हर ट्रांजेक्शन पर 10 रुपए सर्विस चार्ज के साथ सर्विस टैक्स देना होगा. दूसरे बैंक के एटीएम से चार बार से ज्यादा कैश विड्राल पर हर ट्रांजेक्शन पर 20 रुपए सर्विस चार्ज के साथ टैक्स लगेगा.

1 जून से एसबीआई एक्स्ट्रा डेबिट कार्ड इश्यू करने पर भी चार्ज लगेगा. बैंक अब सिर्फ रूपे डेबिट कार्ड ही मुफ्त में जारी करेगा. बांकि सभी कार्ड जारी करने पर बैंक सर्विस चार्ज लगेगा. बैंक मास्टर और वीजा कार्ड इश्यू करने पर भी सर्विस चार्ज ग्राहकों को लगेगा.

Share With:
Rate This Article