सभी दया याचिकाएं समाप्‍त होने तक कुलभूषण को फांसी नहीं देंगे: पाकिस्‍तान

इस्लामाबाद

पाकिस्तान ने पहली बार आधिकारिक तौर पर यह साफ कर दिया है कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को तब तक फांसी नहीं दी जाएगी जब तक कि वह अपनी सभी क्षमा याचिकाओं का इस्तेमाल नहीं कर लेते.

इसके पहले भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने भी यह बात इशारों में कही थी, पर आधिकारिक तौर पर पाकिस्तान की ओर से यह पहला बयान है.

बताया जा रहा है कि गुरुवार को पाकिस्तान में हुई नैशनल सिक्यॉरिटी कमिटी (NSC) की बैठक में यह फैसला लिया गया है. जाधव को रिहा कराने के लिए अंतरराष्ट्रीय अदालत में केस लड़ रहे भारत के लिए यह बड़ी राहत की खबर है.

अंतरराष्ट्रीय अदालत (ICJ) ने भी पाकिस्तान को जाधव की फांसी पर रोक लगाने का आदेश दिया था लेकिन इस बात को लेकर संशय बना हुआ था कि पाकिस्तान इस फैसले को मानेगा या नहीं. पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय अदालत में इस आदेश के खिलाफ अपील भी दायर की है, जिस पर 8 जून को सुनवाई होनी है. ICJ में पाकिस्तान की रणनीति को तय करने के लिए ही यह बैठक बुलाई गई थी.

NSC की मीटिंग की अगुआई पीएम नवाज शरीफ ने की. मीटिंग में पाकिस्तान के सामने उपलब्ध विकल्पों और सुनवाई के लिए की गईं तैयारियों पर चर्चा हुई. इस बैठक में आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा भी मौजूद थे.

Share With:
Rate This Article