बाबरी मस्जिद केस: आडवाणी व जोशी सहित 12 आरोपियों को CBI की स्पेशल कोर्ट से जमानत

अयोध्या में विवादास्पद बाबरी ढांचा गिराए जाने के मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत सभी 12 आरोपियों को मंगलवार को जमानत मिल गई.

विशेष सीबीआई अदालत में आरोपियों को 50-50 हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई. आरोपियों ने डिस्चार्ज ऐप्लिकेशन देकर अपने खिलाफ चार्ज खारिज करने की मांग की थी. उनका कहना है कि ढांचा गिराए जाने में उनकी कोई भूमिका नहीं है. कोर्ट ने यह मांग खारिज कर दी. इसका मतलब यह है कि इनके खिलाफ आरोप तय किए जाएंगे और साजिश से जुड़ी धारा भी जोड़ी जाएगी.

आपको बता दें कि बाबरी मामले की सुनवाई कर रही विशेष सीबीआई अदालत के सामने आज लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी समेत कई बड़े नेताओं को पेश होना था, जहां उन पर बाबरी विध्वंस मामले में आरोप तय किए जाएंगे.

इनके ऊपर बाबरी मस्जिद गिराने की साजिश करने, दो धर्मों के लोगों के बीच दुश्मनी पैदा करने, धार्मिक भावनाएं भड़काने, राष्ट्रीय एकता को तोड़ने के आरोप हैं. पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने अपने फ़ैसले में कहा था कि बाबरी मस्जिद गिराने की आपराधिक साज़िश करने का मुकदमा आडवाणी, जोशी के खिलाफ लखनऊ की स्पेशल सीबीआई कोर्ट में चलेगा.

सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने निर्देश दिया था कि उन्नीस सौ बानवें के बाबरी विध्वंस केस में आडवाणी, जोशी, उमा भारती और अन्य पर षडयंत्र के आरोपों को लेकर मुकदमा चलेगा और रायबरेली से मामले को लखनऊ स्थानांतरित कर दिया गया, जहां इसी से जुड़ा एक अन्य मामला चल रहा है.

Share With:
Rate This Article