यूरोप दौरे के पहले चरण में बर्लिन पहुंचे पीएम, कहा- जर्मनी से दोस्ती और बढ़ेगी

दिल्ली

चार देशों के 6 दिन के दौरे के गए नरेंद्र मोदी सोमवार शाम जर्मनी पहुंचे. वो मंगलवार को भी यहीं रहेंगे. इसके बाद स्पेन, रूस और फ्रांस जाएंगे. कूटनीतिक और आर्थिक तौर पर यह दौरा काफी अहम साबित होने की उम्मीद है.

इकोनॉमिक, डिफेंस, साइंस, इन्फॉर्मेशन-टेक्नोलॉजी और न्यूक्लियर एनर्जी एजेंडे में शामिल होगी. मोदी इन देशों के बिजनेस लीडर्स को ‘मेक इन इंडिया’ प्रोजेक्ट के तहत भारत में कारोबार करने के लिए इनवाइट भी करेंगे. इस दौरान वे 20 से ज्यादा प्रोग्राम में शामिल होंगे.

जर्मनी पहुंचने के बाद मोदी ने एक ट्वीट में कहा- मुझे भरोसा है कि इस विजिट से भारत और जर्मनी के रिश्ते मजबूत होंगे और दोनों देशों को फायदा होगा.

इसके पहले एक फेसबुक पोस्ट में पीएम ने कहा- मैं और जर्मन चांसलर दोनों देशों के बीच ट्रेड, इन्वेस्टमेंट, सिक्युरिटी और काउंटर टेरेरिज्म के लिए स्ट्रैटजी तैयार करने की कोशिश करेंगे.

एक जर्मन न्यूज पेपर को दिए इंटरव्यू में पीएम ने आतंकवाद को मानवता के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया. यूरोपीय देशों से अपील में मोदी ने कहा कि वो आतंकवाद के खिलाफ पुख्ता तरीके से काम करें. उन्होंने कहा- यूरोप में भी कई आतंकी हमले हुए हैं. ताजा मामला ब्रिटेन के मैनचेस्टर का है.

मोदी 29 और 30 को जर्मनी में रहेंगे. यहां से स्पेन जाएंगे. 1 और 2 जून को रूस में रहेंगे. 2 की रात में फ्रांस पहुंचेंगे. मोदी फ्रांस के नए राष्ट्रपति मैक्रों के पहले गेस्ट होंगे.

Share With:
Rate This Article