आतंकवाद और खेल साथ-साथ नहीं- विजय गोयल

आने वाली 1 जून से चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 का आगाज़ होने जा रहे हैं. जिसमें भारत की पहली टक्कर पाकिस्तान के साथ 4 जून को होनी है. लेकिन इस मुकाबले से पहले पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह की द्वीपक्षीय सीरीज़ को लेकर खेलमंत्री विजय गोयल ने कहा है कि खेल और आतंकवाद एक साथ नहीं चल सकते. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट्स इस वश से बाहर हैं.

कप्तान विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम के चैम्पियंस ट्रॉफी कार्यक्रम की शुरूआत 4 जून को पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से होनी है. जिससे ठीक पहले भविष्य में किसी भी तरह की दोनों देशों की सीरीज़ पर सरकार ने पहले ही विराम लगा दिया है.

भारत और पाकिस्तान के बीच मैच श्रृंखला के बारे में सरकार ने कहा है कि आतंकवाद और खेल दोनों साथ साथ नहीं चल सकते. हां किसी बड़ी ट्रॉफी पर कोई वश नहीं है लेकिन आपसी मैच नहीं हो सकते. बीसीसीआई को कोई भी प्रस्ताव आगे बढ़ाने से पहले सरकार से सहमति लेनी चाहिए.

आपको बता दें कि पाकिस्तान, भारत के साथ ग्रुप बी में शामिल है. जिसमें दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका की टीमें भी हैं.

भारत और पाकिस्तान के बीच आखिरी टेस्ट सीरीज़ साल 2007-08 में खेली गई थी. जबकि वनडे में दोनों देश के बीच आखिरी बार सीरीज़ साल 2012-13 में हुई थी. इसके अलावा आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट्स जैसे विश्वकप, वर्ल्ड टी20 और आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में दोनों देश आपस में खेलते रहे हैं.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment