पंजाब में रेत खनन पर सियासत गरमाई, राणा गुरजीत का आरोपों से इंकार

पंजाब में रेत खनन को लेकर राजनीति गरमाने लगी है. बीजेपी ने कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए उनपर अपने नजदिकियों को अवैध तरीके से खनन देने का आरोप लगाया है. जिसके बाद शिरोमणि अकाली दल और आम आदमी पार्टी ने भी उनके इस्तीफे की मांग की है.

वहीं,कांग्रेस इस मुद्दे पर बचाव की मुद्रा में आ गई है. कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने सफाई दी है कि पंजाब में माइनिंग कारोबार से उनके किसी मुलाजिम का कोई लेना-देना नहीं है. वह या उनकी कंपनी राणा शुगर्स लिमिटेड का माइनिंग व्यवसाय से प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से कोई संबंध नहीं है और न ही उनके पैसे लगे हैं.

मीडिया रिपोर्ट को खारिज करते हुए राणा गुरजीत सिंह ने कहा कि उनके किसी पारिवारिक सदस्य या मुलाजिम का भी रेत कारोबार से कोई संबंध नहीं है. उन्होंने कहा कि यह रिपोर्ट गलत है कि उनके दो मुलाजिमों ने रेत खनन में सफल बोली लगाई थी. जिन दो मुलाजिमों के बारे में बात की जा रही है, वे काफी समय पहले कंपनी छोड़ चुके हैं.

 

Share With:
Rate This Article