4 राइफल लेकर फरार J&K पुलिस का सिपाही हिज्बुल मुजाहिद्दीन में हुआ शामिल

श्रीनगर

जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक कॉन्स्टेबल शनिवार को चार रायफल लेकर फरार हो गया था. इस घटना के एक दिन बाद आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने दावा किया है कि पुलिस कॉन्स्टेबल उनके संगठन के साथ जुड़ गया है.

रविवार को हिजबुल मुजाहिद्दीन के प्रवक्ता बुरहानुद्दी ने हथियार लेकर भागने वाले पुलिस वाले को बधाई देते हुए श्रीनगर में एक स्थानीय न्यूज एजेंसी को बताया, “हम सय्यद नवीद (मुश्ताक) शाह का अपने संगठन में स्वागत करते हैं.”

बुरहानुद्दी ने कहा कि “हिजबुल मुजाहिद्दीन कॉन्स्टेबल की बहादुरी को सलाम करता है. नवीद जैसे लोग हमारे संघर्ष में शामिल होते रहेंगे.”

शनिवार शाम को नवीद शाह अपनी व तीन साथियों की कुल चार सर्विस रायफल लेकर बडगाम जिले के चंदपुरा गांव से भाग गया था. यहां उसे फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (FCI) के स्टोर की सुरक्षा में लगाया गया था.

दक्षिण कश्मीर के शोपियां में रहने वाले शाह ने 2012 में पुलिस फोर्स ज्वाइन की थी. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वह अभी पुष्टि नहीं कर सकते कि शाह उग्रवादी संगठन में शामिल हो गया है या नहीं. हालांकि पुलिस सूत्रों ने कहा कि वह शायद इसी इरादे से भागा होगा.

एक सीनियर पुलिस ऑफिसर ने कहा, “कोई भला चार रायफल लेकर क्यों भागेगा अगर उसका प्लान उग्रवादियों के साथ जुड़ने का नहीं होगा.” पुलिस ने कॉन्स्टेबल की तलाश में एक सर्च ऑपरेशन भी चलाया है.

संबंधित सूत्रों ने बताया कि नवीद अचानक ही आतंकी नहीं बना है. उसका आतंकियों और आतंकी संगठनों से पुराना नाता रहा है. वह कई बार ड्यूटी से गायब रह चुका है. इस दौरान वह राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में भी लिप्त रहा है.

नवीद को पकड़ने के लिए पुलिस ने शोपियां, पुलवामा और जिला बडगाम में करीब सात जगहों पर छापेमारी की, लेकिन वह नहीं मिला. उसके कुछ परिचितों से भी पूछताछ की गई है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment