यूपी के हमीरपुर में दूल्हे को मंडप से ‘अगवा’ करने वाली ‘रिवॉल्वर रानी’ गिरफ्तार

हमीरपुर

यूपी के हमीरपुर से 15 मई की रात को दूल्हे को अगवा करने वाली ‘रिवॉल्वर रानी’ की कहानी में अब नया मोड़ आ गया है. पुलिस ने दोनों को बांदा से ढूंढ निकाला और अपने साथ हमीरपुर की मौदहा कोतवाली में ले आई. ‘रिवॉल्वर रानी’ अपने पूरे तेवर में दिखीं वहीं दूल्हे की बोलती बंद थी. गिड़गिड़ाता हुआ दूल्हा कुछ भी बोलने से इनकार कर रहा था. वहीं ‘रिवॉल्वर रानी’ की आवाज में पूरी धमक थी.

‘रिवॉल्वर रानी’ यानि वर्षा साहू ने 15 मई को दूल्हे अशोक यादव को असलहों के दम पर अगवा करने से साफ इनकार किया. वर्षा का दावा था कि अशोक खुद अपनी मर्जी के साथ उसके साथ गया. वर्षा के मुताबिक अशोक उसी कार से गया जो 15 मई को दुल्हन की विदाई के लिए सजा कर रखी गई थी. वर्षा के मुताबिक उसके दावे की सच्चाई उस ड्राईवर से पूछी जा सकती है जो कार को चला कर ले गया.

जहां वर्षा कोतवाली में कड़क आवाज में बात कर रही थी वहीं अशोक यादव के मुंह से शब्द तक नहीं निकल पा रहे थे. वो हर वक्त गिड़गिड़ाता दिखा. अशोक को एक दो बार ये कहते सुना गया कि उसको धमकाया गया, जबर्दस्ती की गई. इस पर वर्षा ने उसकी बात को फौरन काटते हुए कहा कि ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि वो अपनी मर्जी से गया था.

बता दें कि 15 मई को अशोक यादव की शादी कोतवाली क्षेत्र के भवानी गांव में रामजीवन यादव की बेटी भारती यादव के साथ तय थी. लेकिन जैसे ही वर्षा साहू को अशोक यादव के कहीं और शादी करने की सूचना मिली, वो भवानी गांव पहुंच गई. आरोप है कि वर्षा असलहे के दम पर अशोक यादव को अगवा कर ले गई. वहीं वर्षा का कहना है कि अशोक पहले से ही कार में बैठा था और अपनी मर्जी से उसके साथ गया.

Share With:
Rate This Article