बंगाल में ममता लहर: निकाय चुनावों में सात में से 4 पर टीएमसी का कब्जा

कोलकाता

पश्चिम बंगाल में हुए सात नगर निकाय चुनावों में तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने चार पर जीत हासिल की है. पिछले तीन दशकों में यहां पहाड़ी इलाके मिरिक में जीत दर्ज करनेवाली वह पहली गैरपहाड़ी (मुख्यधारा की) पार्टी है.

TMC ने राज्य के साउथ 24 परगना के पुजाली, नॉर्थ दिनाजपुर के रायगंज, मुर्शिदाबाद के डोमकल और दार्जिलिंग की मिरिक सीट पर विरोधियों का सफाया कर दिया. पुजाली के 16 वॉर्डों में से 12 पर TMC ने जीत दर्ज की, जबकि बीजेपी सिर्फ दो वॉर्डों पर जीती. डोमकल के 21 वॉर्डों में TMC को 20 पर सफलता मिली.

शुरुआती रुझान में लेफ्ट गठबंधन को 3 वॉर्डों पर जीत मिली, लेकिन बाद में वॉर्ड नंबर 20 के रफीकुल इस्लाम और वॉर्ड नंबर 9 के अशदुल इस्लाम ने TMC जॉइन कर ली जिसकी वजह से लेफ्ट को एक ही सीट मिली. डोमकल नगर निगम में पहली बार कोई चुनाव हुआ था.

चुनाव से पहले रैगनी नगर निगम पर कांग्रेस का नियंत्रण था, लेकिन आज के परिणाम के बाद वहां के 27 वॉर्डों में से 24 पर TMC का कब्जा हो गया है. मिरिक के 9 वॉर्डों में से पार्टी ने 6 जीते. यहां उसने बीजेपी गठबंधन की सहयोगी गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (GJM) को मात दी. तीन पहाड़ी क्षेत्र, दार्जिलिंग, कलीमपोंग और कुर्सेयोंग पर GJM ने जीत दर्ज की.

दार्जिलिंग की 32 सीट में से 31 GJM को गईं, वहीं कुर्सेयोंग के 20 वॉर्डों में से 17 उसके नाम हुए. कलीमपोंग का परिणाम सबसे आखिर में घोषित हुआ. यहां GJM-BJP गठबंधन को जीत मिली. 23 वॉर्डों में 11 सीटें इस गठबंधन ने जीतीं, जबकि हरका बहादुर छेत्री के नेतृत्व वाली जन आंदोनलन पार्टी (JAP) ने दो और TMC ने भी दो सीटों पर जीत दर्ज की.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment