पाकिस्तान ने अब राजौरी में किया सीजफायर उल्लंघन, सेना दे रही है मुंहतोड़ जवाब

श्रीनगर

जम्मू और कश्मीर के रजौरी सेक्टर में एलओसी पर पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है. पिछले लंबे समय से पाक सेना भारतीय जवानों को उकसाने के लिए कई बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर चुकी है.

इस दौरान लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर प्रभावित इलाकों से करीब 1000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया. पाकिस्तान की तरफ से सुबह करीब 6:45 पर गोलीबारी की गई.

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की तरफ से एलओसी से सटे 7 गांवों को टारगेट बनाया गया है. इन गांवों के 1000 से ज्यादा लोगों को प्रभावित इलाकों से निकालकर सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है. हालांकि, पाक की तरफ से हुई फायरिंग में एक बच्ची सहित 2 आम नागरिकों की मौत हो गई, वहीं 4 जवानों सहित 9 लोग घायल हैं.

पाकिस्तान की तरफ से हुई फायरिंग की वजह से शनिवार शाम को भी 193 परिवारों के 743 लोगों को शेल्टर कैंप में पहुंचाया गया था. वहीं नौशेरा रीजन के 51 और मंजाकोट और डोंगी सेक्टर के 36 स्कूलों को अनिश्चित समय के लिए बंद कर दिया गया है.

बता दें कि शनिवार की सुबह पाकिस्तान की ओर से बिना उकसावे के गोलीबारी की गई. पाकिस्तानी सेना ने भारी संख्या में मोर्टार दागे जिसका शिकार दो भारतीय नागरिक बने. जानकारी के मुताबिक दोनों की मौके पर ही मौत हो गई. तीन अन्य घायलों को अस्पताल ले जाया गया है.

बीते तीन दिनों से पाकिस्तान लगातार सीजफायर तोड़ रहा है. शुक्रवार को पाकिस्तान ने जम्मू जिले के अरनिया में अंतराष्ट्रीय सीमा पर सीजफायर तोड़ते हुए फायरिंग की थी. पाकिस्तानी रेंजर्स ने बाड़ पर काम कर रहे भारतीय सैनिकों को निशाना बनाने की कोशिश की थी.

इसके बाद भारत की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई की गई थी. इसके पहले बुधवार और गुरुवार को भी पाकिस्तान की ओर से एलओसी पर फायरिंग की गई थी जिसमें एक महिला की मौत हो गई थी. नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी के चलते ही सीमा पर स्कूलों पर बंद करा दिया गया था और स्थानीय लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया था.

Share With:
Rate This Article